Top
Pradesh Jagran

हरिद्वार का 'गर्व' भी बनेगा पीएम मोदी के साथ चन्द्रयान-2 की लैंडिग देखने का गवाह

हरिद्वार का गर्व भी बनेगा पीएम मोदी के साथ चन्द्रयान-2 की लैंडिग देखने का गवाह
X

हरिद्वार। देश के लिए सात सितंबर का दिन ऐतिहासिक होगा जब चंद्रयान-2 चांद पर लैंड करेगा। चंद्रयान-2 की लैंडिंग हरिद्वार के लिए भी यादगार बनने वाली है। क्योंकि चंद्रयान-2 की लैंडिंग को हरिद्वार का एक छात्र और भविष्य का वैज्ञानिक गर्व सक्सेना भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ इसका सीधा प्रसारण देखेगा।

हरिद्वार के डीपीएस पब्लिक स्कूल का छात्र गर्व सक्सेना देश के कुल 22 और उत्तराखंड के उन 2 छात्रों में से एक है, जिन्हें पीएम मोदी के साथ चंद्रयान की लैंडिंग देखने का मौका मिला है। गर्व को इसरो से पीएम मोदी के साथ चंद्रयान की लैंडिंग देखने के लिए निमंत्रण मिल चुका है। गर्व अपने माता-पिता के साथ सात सितंबर को चंद्रयान की लैंडिंग देखने के लिए हरिद्वार से 4 सितंबर को रवाना होगा।

सात सितंबर को भारत का चंद्रयान-2 जब चांद कि अनछुई धरती पर उतरेगा तो वह पल देश के लिए ऐतिहासिक होगा। पहली बार भारत का चंद्रयान-2 चांद के उस हिस्से पर उतरेगा जहां आज तक किसी भी देश का कोई चंद्रयान नहीं पहुंच पाया है। इसरो ने चंद्रयान-2 की लैंडिंग को प्रधानमंत्री के साथ देखने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर एक क्विज का आयोजन किया था। इस क्विज में हर राज्य से केवल 2 लोगाें का चयन किया जाना था। क्विज में कुल 20 प्रश्नों के उत्तर देने थे। हरिद्वार में डीपीएस के आठवीं कक्षा के छात्र गर्व सक्सेना ने भी ऑनलाइन होने वाली इस क्विज में भाग लिया और क्विज में चुने जाने वाले राज्य के कुल दो लोगों में से उसे भी चुना गया है।

गर्व सक्सेना का कहना है कि आज उसका सपना पूरा हुआ है जो उसे पीएम मोदी के साथ चंद्रयान की लैंडिंग लाइव देखने का मौका मिला है। उसका कहना है कि जब पीएम मोदी से मिलेगा तो उनसे कहेगा कि आपकी नीतियां देश को बहुत आगे ले जा रही हैं और हम सब को आप से बहुत अपेक्षाएं हैं। पीएम मोदी के साथ चंद्रयान की लैंडिंग देखने के लिए गर्व सक्सेना को चुने जाने से उसके माता-पिता की खुशी का कोई ठिकाना नहीं है।

छोटी सी उम्र में गर्व सक्सेना ने जिस तरह से क्विज प्रतियोगिता में सभी सवालों का सही जवाब देकर चंद्रयान-2 की लैंडिंग को लाइव देखने का मौका पाया है उसने हरिद्वार ही नहीं पूरे उत्तराखंड का नाम रोशन किया है। अब गर्व सक्सेना के साथ उसका परिवार भी सात तारीख को इसरो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ चंद्रयान-2 की लैंडिंग लाइव देखेगा। इसको लेकर पूरे परिवार में उत्साह की लहर है।

Next Story
Share it