Top
Pradesh Jagran

योग से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर कोरोना से बचें : बालकृष्ण

योग से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर कोरोना से बचें : बालकृष्ण
X

ऋषिकेश। पतंजलि योगपीठ के कुलपति आचार्य बालकृष्ण ने कहा है कि कोरोना वायरस चिकित्सा विज्ञान की ओर से फैलाया जा रहा एक डरावना भ्रम है। यह वायरस कोई नई उत्पत्ति नहीं है। ऐसे विश्व में लाखों वायरस हैं। इसलिए योग के जरिए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर कोरोना से भी बचा जा सकता है।

शनिवार को अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव के अंतिम दिन पतंजलि योगपीठ के कुलपति आचार्य बालकृष्ण ने योग साधकों का मार्गदर्शन करते हुए प्रश्नोत्तरी सत्र में भाग लिया। इस दौरान एक योग साधक ने कोरोना वायरस के भय का निदान पूछा। उन्होंने कहा कि कोरोना चिकित्सा विज्ञान की भ्रम का खौफ हैं। कभी कभार यह वायरस ज्यादा सक्रिय हो जाते हैं। ज्यादातर उन्हीं लोगों को प्रभावित करता है जिनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है।

उन्होंने कहा कि प्रकृति ने हमें गिलोय और तुलसी के रूप में दो दिव्य औषधियां प्रदान की है। इनके सेवन से कोई भी वायरस आसानी से अपना प्रभाव नहीं दिखाता। उन्होंने इम्युनिटी पॉवर बढ़ाने के लिए कपालभाति, अनुलोम विलोम और प्राणायाम को अपनाने की सलाह दी।

Next Story
Share it