Saturday , February 29 2020
Home / धर्म/एस्ट्रोलॉजी/अध्यात्म / अक्षय तृतीया:इस बार बन रहा है अद्भुत संयोग,इच्छापूर्ति योग से पूरी होंगी इच्छाएं

अक्षय तृतीया:इस बार बन रहा है अद्भुत संयोग,इच्छापूर्ति योग से पूरी होंगी इच्छाएं

मंगलवार को पड़ने वाली अक्षय तृतीया पर सोलह साल बाद विशेष योग बन रहे हैं। इस बार पांच ग्रह सूर्य, शुक्र, चंद्र और राहू केतु अपनी उच्च राशियों में गोचर करेंगे। इससे पहले यह संयोग वर्ष 2003 में बना था। यह राशियों के अनुसार खरीदारी करने में अति शुभ योग है। इस बार मृगशिरा नक्षत्र और अतिगंड योग के सहयोग से इच्छापूर्ति योग भी बन रहा है।

अबूझ मुहूर्त  

हरि ज्योतिष संस्थान के ज्योतिर्विद पंडित सुरेंद्र शर्मा ने बताया कि अक्षय तृतीया सर्वसिद्ध अबूझ मुहूर्त तिथि है और मांगलिक कार्यों के लिए अति शुभ है। इस दिन विवाह, गृह प्रवेश आदि शुभ कार्य करने के लिए तिथि मुहूर्त आदि निकलवाने की जरूरत नहीं होती। परंपरा है कि इस दिन सोना खरीदने से समृद्धि आती है। 

क्या है अक्षय तृतीया

अक्षय तृतीया वैशाख में शुक्ल पक्ष की तृतीया को होती है। अक्षय तृतीया 07 मई को है। कथा प्रसंग के अनुसार एक बार लक्ष्मी जी ने विष्णु जी से कहा कि समस्त शुभ कार्य किसी न किसी मुहूर्त में होते हैं। जो इन मुहूर्त में नहीं कर पाएं, उनके लिए भी तो कुछ होना चाहिए। तब भगवान ने अपने अवतार दिवस यानी परशुराम जयंती पर अक्षय तृतीया को अबूझ मुहूर्त की संज्ञा दी। नाम के अनुरूप अक्षय तृतीया पर धन का क्षय नहीं होता। धनतेरस की तरह ही इस दिन स्वर्ण-रजत खरीदने की परंपरा है। इसी दिन त्रेता युग का शुभारम्भ भी माना गया।

क्या खरीदें 

इस दिन बिना किसी पंचांग के विवाह कार्य किया जा सकता है। इसके आलावा व्यापार आरम्भ, नींव पूजन, गृह प्रवेश, ऑफिस ओपनिंग, वाहन खरीद, जॉब ज्वाइनिंग, बिज़नेस डील, खरीदारी बेहिचक की जा सकती है। धनतेरस की तरह ही सोना-चांदी, वाहन खरीदना शुभ है। लक्ष्मी जी का वास धन के साथ ही धान्य में है। इसलिए, चावल और गेहूं अवश्य खरीदना चाहिए। रसोई से जुड़ा कोई भी आइटम खरीदना शुभ माना गया है।

अक्षय तृतीयाः पूजन का मुहूर्त

सुबह 6:40 से दोपहर 12:26 बजे तक 

अवधि 6 घंटे

सोना खरीदने के लिए शुभ मुहूर्त

सुबह 11:26 से रात 9:47 बजे तक

(राहु काल छोड़कर)

Source:Hindustan
TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr
Loading...

Check Also

जानिए क्या होता है होलाष्टक, आखिर क्यों नहीं होते 8 दिन तक शुभ काम

इस वर्ष 9 मार्च को होली है। होली तिथि की गिनती होलाष्टक के आधार पर …

TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com