Breaking News
Medical Education

पिछड़े वर्ग के छात्रों को मिलेगा मेडिकल सीटों में 27 प्रतिशत का आरक्षण, इतने छात्र होंगे लाभान्वित

नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मेडिकल कॉलेजों में पिछड़े वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण देने का फैसला किया है। इसके साथ आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को भी 10 प्रतिशत का आरक्षण दिया जाएगा। यह व्यवस्था एमबीबीएस, एमडी, एमएस, पीजी मेडिकल, डेंटल कोर्स, बीडीएस और डिप्लोमा कोर्स के शैक्षणिक वर्ष 2021-22 से लागू होगा।

सरकार के इस फैसले से देश के 5550 छात्रों को लाभ मिलेगा। इस संबंध में स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने ट्वीट करके कहा कि देश में मेडिकल शिक्षा के क्षेत्र में सरकार द्वारा ऐतिहासिक निर्णय लिया गया है। ऑल इंडिया कोटे के तहत अंडर ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, मेडिकल तथा डेंटल शिक्षा में पिछड़े वर्ग के छात्रों को 27 प्रतिशत व कमजोर आय वर्ग के छात्रों को 10 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा। देश में पिछड़े तथा कमजोर आय वर्ग के उत्थान के लिए उन्हें आरक्षण देने को सरकार प्रतिबद्ध है।