Breaking News
Donate Now

कुशीनगर : मस्जिद विस्फोट कांड में मास्टर माइंड निकला कथित मेजर, फरार

 

 

कुशीनगर। कुशीनगर की बैरागी पट्टी मस्जिद में हुए बारूदी विस्फोट कांड की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, नए-नए तथ्य भी उभरकर सामने आ रहे हैं।

घटना में मौके पर मौजूद सेना के कथित मेजर के ​तरफ पुलिस का रुख मुड़ा है। वह पुलिस अधिकारियों को अपने रुतबे में ले लिया था। अब इसी कथित मेजर की भूमिका प्रमुख सूत्रधार के रूप में सामने आ रही है। प्रारम्भिक स्तर पर ही पुलिस व गुप्तचर इकाइयों की लापरवाही से आरोपी कथित मेजर घटना का रुख दूसरी तरफ मोड़कर फरार होने में सफल रहा।

सेना में मेजर होने की धौंस व अंग्रेजी में बात करने के कारण पुलिस के एक बड़े अधिकारी असफाक से प्रभावित नजर आए तो स्थानीय पुलिस अशफाक की हर बात पर यस सर, जी सर कर रही थी। पुलिस अधिकारी इस कदर प्रभाव में थे कि अशफाक से सामान्य पूछताछ का साहस नहीं जुटा पा रहे थे। हालांकि एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने असफाक की आईडी मांगी तो वह आईडी दिखाने के बजाय बहस करने लगा। प्रशासनिक अधिकारी ने उसकी शैली को अनुचित बताते हुए फटकार लगाई। हालांकि बहस में उसने यह स्वीकार किया कि वह 2017 में ही रिटायर्ड है और आईडी हैदराबाद में जमा है। इसके बाद से ही असफाक फरार चल रहा है।

इस घटना में फौरी तौर पर जिले की पूरी पुलिस टीम लापरवाह साबित हुई है। यदि पुलिस ने मामले की गम्भीरता समझी होती तो एक असफाक के पकड़े जाने के साथ ही अब तक पूरी साजिश उजागर हो चुकी होती।

गौरतलब है कि कुशीनगर के तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के अवरवा सोफीगंज गांव के बैरागीपट्टी टोला स्थित मस्जिद में सोमवार को विस्फोट हुआ था। एटीएस ने विस्फोट के दूसरे दिन मौके पर पहुंचकर बारूदी विस्फोट वह उसकी तीव्रता की पुष्टि की। मस्जिद में हुआ विस्फोट दस किलो बारूद का था। पुलिस सहयोगी आरोपियों को रिमांड पर लेने की कोशिश में जुटी है।आई जी जयनारायन सिंह ने मस्जिद का दौरा किया और दो दिन के भीतर मामले का खुलासा करने का दावा किया हैं।

error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com