Top
Pradesh Jagran

मंत्रियों पर सख्त हुए सीएम योगी, कहा- तीन दिन में दें सम्पत्ति का ब्यौरा

मंत्रियों पर सख्त हुए सीएम योगी, कहा- तीन दिन में दें सम्पत्ति का ब्यौरा
X

yogi smallमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पहले फरमान का भी मंत्रियों ने मान नहीं रखा। मंत्री संपत्ति का ब्योरा देने से कन्नी काट रहे हैं। तय समय सीमा बीतने के बाद योगी ने मंत्रियों को कड़ा पत्र लिखा है और तीन दिन के भीतर संपत्ति का ब्योरा उपलब्ध कराने को कहा है।

इसके अलावा योगी ने मंत्रियों को आचरण संहिता की कॉपी भी भेजी है जिसका उन्हें सख्ती से पालन करना है। इसमें थैली भेंट, ठेका-पट्टा में शामिल न होने और शासकीय दौरे में मितव्ययिता बरतने और आडंबर व दावत से बचने की हिदायत दी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 19 मार्च को सरकार की कमान संभालने के बाद मंत्रियों के साथ पहली बैठक की थी। इसमें दूसरों के लिए एक नजीर पेश करने के मकसद से अपने सभी मंत्रियों से 15 दिन के भीतर चल व अचल संपत्ति का ब्योरा पार्टी संगठन व मुख्यमंत्री के सचिव को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था।

जानकार बताते हैं कि बड़ी संख्या में ऐसे मंत्री हैं जिन्होंने यह जानकारी नहीं दी। 15 दिन की जगह करीब 25 दिन इंतजार करने के बाद मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को इस संबंध में फिर पत्र लिखा है।

हर साल देना होगा अपनी सम्पत्ति का ब्यौरा

योगी ने मंत्रियों को चल-अचल संपत्ति का ब्योरा देने संबंधी अपने निर्देशों की याद दिलाते हुए उसका अनुपालन न किए जाने की ओर ध्यान दिलाया है।

जानकार बताते हैं कि योगी ने उपमुख्यमंत्रियों, मंत्रियों, स्वतंत्र प्रभार के मंत्रियों व राज्यमंत्रियों को लिखे पत्र में तीन दिन के भीतर चल व अचल संपत्ति की जानकारी उपलब्ध कराने को कहा है। मंत्रियों को हर साल की 31 मार्च तक अपनी चल-अचल संपत्ति का ब्योरा देना होगा।

जानकार बताते हैं कि मंत्रियों द्वारा समय से जानकारी न दिए जाने पर योगी खासा नाराज हैं। उनकी चिंता है कि मंत्रियों द्वारा समय से निर्देशों का अनुपालन न किए जाने से शासन व प्रशासन तक गलत संदेश जा सकता है।

Next Story
Share it