Monday , August 2 2021
Breaking News

भाली व तलवार मारकर हत्या

देव श्रीवास्तव
लखीमपुर-खीरी।
पुस्तैनी घर के विवाद में एक ही परिवार के दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। एक पक्ष के लोग दूसरे पक्ष के युवक को रास्ते से घर खींच ले गए और भाई व तलवार मार कर मार डाला। बचाने आए मृतक के भाइयों को भी बुरी तरह मारा-पीटा। मृतक का छोटा भाई गंभीर रूप से घायल है। अन्य दो की हालत खतरे के बाहर है। पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है। मुख्य आरोपी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। 
murder
जानकारी के अनुसार, कोतवाली सदर क्षेत्र के बड़ागांव निवासी रहमत अली (23) पुत्र असगर अली पुस्तैनी मकान के अपने हिस्से में नींव भरवा रहा था। इस बीच उसके चचेरे बाबा कुर्बान अली पुत्र मोहम्मद जान ने विरोध करना शुरू कर दिया। बात प्रधान तक पहुंची तो पंचायत बैठाई गई। फैसला हुआ कि रहमत अली अपने हिस्से की चार इंज भूमि छोड़कर निर्माण कराएगा। रहमत अली राजी हो गया और वह चार इंच जमीन छोड़कर निर्माण कराने लगा। इसी बीच कुर्बान लाठी लेकर आया और उसने रहमत के सिर पर वार कर दिया। तिलमिलाया रहमत भाग खड़ा हुआ और अपने चाचा रऊफ के घर पहुंचा। वहां जब उसने सारी बात बताई तो चाचा का लड़का हसमत अली उसके साथ घर की ओर आने लगा। 
 
रास्ते में ही कुर्बान अली ने अपने बेटे सोहराब व साथियों तसव्वर पुत्र अली रज़ा, अतउर्रहमान पुत्र यूसुफ, निजामुद्दीन पुत्र गुलाम रज़ा, रियाजुद्दीन पुत्र शब्बीर व एक अज्ञात के साथ मिलकर रास्ते में ही रहमत को पकड़ लिया और उसके खींचकर घर ले जाने लगे। यह देख उसके भाई हसरत अली (25) व अजमत अली (18) उसे बचाने दौड़े तो दबंगों ने उन पर भी वार करने शुरू कर दिए। अजमत को धारदार हथियारों से प्रहार कर घायल कर दिया। हसरत अली व हसमत अली की भी लात-घूसों से पिटाई की। वहीं रहमत को घर ले जाकर भाला व तलवार से खांदकर मौत के घाट उतार दिया। हत्या को अंजाम देकर सभी मौके से भाग गए। मामले की जानकारी पुलिस को गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के वास्ते भेज दिया। पीडि़त पक्ष की तहरीर पर एक अज्ञात सहित सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। मुख्य आरोपी पुलिस हिरासत में है। 

सात साल पहले भी पंचायत ने कराया था निबटारा

 हत्या का कारण पुस्तैनी घर के बंटवारे का मामला बताया जा रहा है। सात साल पहले पुस्तैनी घर को लेकर विवाद हुआ था। तब पंचायत बैठी थी। पंचायत ने मोहम्मद जान के दोनों बेटों को बराबर-बराबर हिस्से पर कब्जा दिलाया था। आगे चलकर विवाद न हो इसलिए बीच में नींव भी भरवाई गई थी। रहमत अली अपने हिस्से में ही निर्माण करा रहा था। चर्चाओं के मुताबिक कुर्बान अली पक्ष पूरे हिस्से पर कब्जा करना चाहता था इसलिए वह निर्माण नहीं होने दे रहे थे। ाचार लिखे जाने तक पुलिस को कोई तहरीर नही दी गई थी।
 ग्राम रधोला के पास गोमती नदी के किनारे उपदेश (35) पुत्र स्व$ दुर्गा निवासी ग्राम रामपुर राजा गम्भीर रूप से घायल अवस्था में पडा मिला। लोगों नें तत्काल घायल के घर व पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने उपदेश को 108 सेवा से सीएचसी भेजा। सीएचसी में उपचार के बाद गम्भीर हालत के चलते उपदेश को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। घायल को देखकर एेसा लग रहा था कि उसे लाठी-डंडों से बुरी तरह मारा गया है। घायल की मां नें बताया कि उपदेश का प्रेम प्रसंग एक 40 वर्षीय महिला से चल रहा था। इसी के चलते उपदेश ने विवाह भी नहीं किया था। एक बार पहले भी उपदेश अपने हाथ में गोली मार कर स्वयं को घायल कर चुका है। समाचार लिखे जाने तक पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली थी।

एसपी ने किया मोहम्मदी कोतवाली व सीओ कार्यालय का निरीक्षण

पुलिस अधीक्षक एससी चिनप्पा ने जिले में कार्यभार संभालने के बाद आज मोहम्मदी कोतवाली व सीआे कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने थाने व सीआे कार्यालय की साफ-सफाई रखने के निर्देश मातहतों को दिये।
नवागंतुक पुलिस अधीक्षक एससी चिनप्पा जिन्होंने 28 अपै्रल को ही जिले में कार्यभार संभाला है कार्यभार लेने के अगले दिन ही मोहम्मदी कोतवाली पहुंच गये। कोतवाली में पुलिस अधीक्षक नें अभिलेखों के साथ साथ परिसर व मेस का मुआयना किया तथा सफाई रखने के निर्देश दिये। पुलिस अधीक्षक नें कोतवाली में एक रजिस्टर बनाकर क्षेत्र के वरिष्ठ नागरिकों जो अकेले रहते है का ब्योरा रखने व पुलिस कर्मियों के उनके सम्पर्क में रहने पर जोर देते हुए कहा कि जो एनसीआर दर्ज की जायें उनमें 151 सीआरपीसी की कार्यवाही अवश्य की जाये। इसके बाद कप्तान बगल में ही स्थित सीआे कार्यालय पहुंच गये। सीआे कार्यालय में निरीक्षण के दौरान गंद्गी मिलने पर उन्होंने कड़े शब्दों में सीआे एलडी भारती को सफाई रखने की हिदायत दी।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *