Top
Pradesh Jagran

पत्नी ने प्रेमी से मिलकर कराई थी रामलखन की हत्या

पत्नी ने प्रेमी से मिलकर कराई थी रामलखन की हत्या
X

लखीमपुर-खीरी/देव श्रीवास्तव: थाना खीरी पुलिस ने गांव बसैगापुर निवासी रामलखन हत्याकांड का सोमवार को खुलासा कर दिया। पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर चालान भेजा है। पुलिस का दावा है कि प्रेम में बाधक बन रहे पति को रास्ते से हटाने की योजना उसकी पत्नी ने बनाई थी।

murder-investigation

25 मार्च को हुई थी ह्त्या

खीरी के गांव बसैगापुर निवासी 20 वर्षीय रामलखन चहमलपुर स्थित एक शुगर इंड्रस्ट्रीज पर मजदूरी करता था। 25 मार्च को वह घर से शाम चार बजे से रात 12 बजे की शिप्ट में ड्यूटी करने आया था। अगले दिन उसका शव इंड्रस्ट्रीज के सामने पीलीभीत-बस्ती मार्ग पार कर गेहं के खेत से बरामद हुआ था। मृतक के घर वालों का कहना था कि उसकी मशीन की चपेट में मौत हुई और इंड्रस्ट्रीज के मालिक ने शव छुपाने के लिए गेहूं के खेत में डाल दिया। पुलिस शुगर इंड्रस्ट्रीज मालिक समेत चार के खिलाफ हत्या और शव छुपाने की रिपोर्ट दर्ज कर लिया था, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली लगने से मौत होने की बात सामने आने पर पुलिस ने प्रकरण की गंभीरता से जांच की।

सीसीटीवी फुटेज आया काम

सीओ सिटी निर्मल कुमार विष्ट के नेतृत्व में एसओ जावेद अख्तर ने जब जांच की तो शुगर इंड्रस्टीज में लगे सीसीटीवी फुटेज से यह बात साफ हो गई कि रामलखन शाम करीब आठ बजे मोबाइल पर बात करते हुए शुगर इंड्रस्ट्रीज से बाहर चला आया और वह बाद में वापस नहीं लौटा। उन्होंने बताया कि जांच में यह बात सामने आई कि मृतक की पत्नी राजकुमारी की गांव के ही 19 वर्षीय सचिन कहार के बीच प्रेम संबंध हैं। इसकी जानकारी रामलखन को हो गई थी, इस पर रामलखन उस पर निगरानी रखने लगा। इस पर उसकी पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की योजना बनाई। योजना के मुताबिक उसके मोबाइल पर सचिन ने कॉल की और उसे जरूरी बात करने के लिए शुगर इंड्रस्ट्रीज से बाहर बुलाया और उसकी पीछे से पीठ पर गोली मारकर हत्या कर दी। बाद में शव को खेत में फेंक दिया। पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके हत्यारोपी पति को गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने बताया कि हत्यारोपी की निशानदेही पर जमीन में गाडक़र रखे गया 315 बोर का तमंचा पुलिस ने बरामद कर लिया है। दोनों आरोपियों का सोमवार को चालान कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से अदालत ने दोनों को जेल भेज दिया। इस दौरान एएसपी दीपेंद्र नाथ चौधरी भी मौजूद रहे।

Next Story
Share it