Home / लाइफस्टाइल / बात सेहत की / दादी नानी नुस्खे: गर्मियों में लू करती है परेशान, आपनाएँ ये तरीका…

दादी नानी नुस्खे: गर्मियों में लू करती है परेशान, आपनाएँ ये तरीका…

तेज गर्मी का दौर शुरू हो गया है, पारा 40 डिग्री को पार गया है. समय से पहले गर्मी इतनी हो रही है कि इससे बच पाना मुश्किल हो रहा है. गर्मियों का मौसम आते ही लू एक बड़ी समस्या बन जाती है.

ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि आखिर लू कैसे लगती है, इसके सामान्य लक्षण क्या हैं और इससे बचने के लिए कैसे आप घर पर ही दादी मां के कुछ नुस्खे अपनाकर फिट और हेल्दी रह सकते हैं. चलिए जानते हैं उनके कुछ घरेलु उपाय…

इन वजहों से लगती है लू

गर्मी के मौसम में खुले शरीर रहने, नंगे पांव धूप में चलने, तेज गर्मी में घर से खाली पेट और बिना पानी पिए बाहर जाने, कूलर या AC से निकल कर तुरंत धूप में जाने, बाहर धूप से आकर तुरंत ठंडा पानी पीने की वजह से अक्सर लू लगने की समस्या हो जाती है. शारीरिक रूप से कमजोर लोगों, बच्चों, बुजुर्गों, और कम पानी पीने वाले लोगों को अक्सर लू लग जाती है.

लू लगने के लक्षण

  • तेज बुखार और सांस लेने में तकलीफ
  • उलटी आना और चक्कर आना
  • लूज मोशन, सिरदर्द, शरीर टूटना
  • बार-बार मुंह सूखना और हाथ*पैरों में कमजोरी आना या निढाल होना, बेहोश होना
  • शरीर में गर्मी, खुश्की या थकावट महसूस होना

भारी और बासी खाने से बचें

गर्मी में ज्यादा भारी, गरिष्ठ और बासी भोजन न करें क्योंकि गर्मी में शरीर की जठराग्नि धीमी हो जाती है इसलिए हमारा शरीर भारी खाने को पूरी तरह से पचा नहीं पाता और जरुरत से ज्यादा खाने या भारी खाना खाने से उलटी*दस्त की शिकायत हो सकती है.

कोल्ड ड्रिंक की बजाए ये चीजें पिएं

गर्मी में गला बहुत सूखता है और प्यास भी लगती है. ऐसे में बाजार से खरीद कर कोल्ड ड्रिंक या पैक्ड जूस पीने की बजाए घर की बनी ठंडी चीजों का सेवन करना चाहिए. जैसा आम का पन्ना, बेल का शरबत, खस का ठंडा शरबत, चन्दन गुलाब और फालसा का शरबत, संतरे का जूस या शरबत, ठंडाई, सत्तू का शरबत, दही की लस्सी, छाछ या मट्ठा आदि.

Loading...

Check Also

बारिश के मौसम में पिम्पल कम कर रहें हैं ब्यूटी, अपनाए ये गजब के होम मेड टिप्स

बरसात के मौसम में व्यक्ति को अपने स्वास्थ्य और शरीर की सफाई का बहुत ध्यान …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com