Breaking News
Donate Now

2011 वर्ल्ड कप के हीरो रहे युवराज सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से लिया सन्यास

मुंबई। भारत के 2011 विश्व कप में नायक रहे युवराज सिंह ने सोमवार को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास का ऐलान कर दिया है। उन्होंने मुंबई के साउथ होटल में कुछ एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर इसकी पुष्टि की। युवराज ने कहा कि वह काफी समय से रिटायरमेंट के बारे में सोच रहे थे और अब उनका प्लान आईसीसी द्वारा मान्यता प्राप्त टी-20 टूर्नामेंट्स में खेलने का है।

गौरतलब हो कि युवराज सिंह पिछले काफी लंबे समय से भारतीय टीम की ओर से नहीं खेले हैं। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने अब तक के अपने करियर में भारतीय टीम की ओर से 40 टेस्ट खेले हैं जिसमें उन्होंने 33.92 की औसत से 1900 रन बनाए हैं। जिसमें 3 शतक और 11 अर्धशतक शामिल हैं। टेस्ट के अलावा युवराज सिंह ने भारत की ओर से 304 वनडे और 58 टी-20 मैच खेले। वनडे में उन्होंने 14 शतकों और 52 अर्धशतकों की मदद से 8701 रन जुटाए, जबकि टी-20 मैचों में युवराज ने कुल 1177 रन बनाए। इसमें आठ अर्धशतक शामिल हैं। युवराज ने टेस्ट मैचों में 9, वनडे में 111 और टी-20 मैचो में 28 विकेट भी लिए हैं।  युवराज ने 2008 के बाद कुल 231 टी-20 मैच खेले हैं और 4857 रन बनाए हैं। उन्होंने टी-20 मैचों में 80 विकेट भी लिए हैं।

जानकारी के मुताबिक, युवराज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास के बाद आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी टी-20 लीग में खेलना चाहते हैं। युवी विदेशी टी-20 लीग में फ्रीलांस क्रिकेटर के तौर पर खेल सकते हैं। सूत्रों की मानें तो युवराज आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी ट्वेंटी20 लीग में फ्रीलांस कैरियर बनाना चाहते हैं। बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने हाल में पीटीआई को बताया था कि युवराज अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास के बारे में सोच रहे हैं।

error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com