Top
Pradesh Jagran

Viral: इस कंपनी में दूसरी बार टॉयलेट गए तो कटेगी इतनी सैलरी, तानाशाही नियम से कर्मचारी परेशान

Viral: इस कंपनी में दूसरी बार टॉयलेट गए तो कटेगी इतनी सैलरी, तानाशाही नियम से कर्मचारी परेशान
X

इतिहास में तानाशाही के कई किस्से हैं। तानाशाह अपने उन अजीबोगरीब नियमों के चलते बहुत बदनाम हुए, जिनसे जनता परेशान हो जाती थी। तानाशाह चले तो गए लेकिन एक कंपनी में मानों तानाशाही का भूत समा गया है क्योंकि इस कंपनी ने ऐसा नियम लागू कर दिया है जिसमें बेवकूफी के अलावा कुछ नहीं झलकता। ये अजीबोगरीब खबर तेजी से वायरल हुई है और यूजर इस कंपनी को लानत मलानत भेज रहे हैं।

जी हां बात हो रही है चीन की एक कंपनी की, जिसने अपने कर्मचारियों को आठ घंटे की शिफ्ट में एक बार ही टायलेट ब्रेक लेने की छूट दी है। कोई कर्मचारी अगर दूसरी बार टॉयलेट ब्रेक पर जाता है तो उसे एक्सट्रा टॉयलेट ब्रेक पर 20 युआन यानी 236 रुपए का जुर्माना भरना होगा जो उसकी तनख्वाह से काट लिया जाएगा। आप भी सोच रहे होंगे कि नेचर कॉल पर इस तरह पहरा कहां तक सही है।


चीन के गुआंगडोंग प्रांत के दोंगगुआन में चल रही अंपू इलेक्‍ट्रॉनिक साइंस एंड टेक्‍नॉलजी ने ये अजीबोगरीब फरमान जारी किया है। कंपनी अपने 7 कर्मचारियो को दूसरी बार टायलेट ब्रेक लेने पर पिछले साल दिसंबर में जुर्माना लगा भी चुकी है।

जब कर्मचारी इस नए फरमान से तंग आकर प्रशासन की शरण में गए तो प्रशासनिक अधिकारी भी भौंचक्के रह गए। उन्होंने इस फरमान को अवैध बताते हुए कंपनी से जवाब मांगा कि ऐसा क्यों किया गया। कंपनी भी कम नहीं है। उसने बाकायदा लिखित में बताया है कि कमजोर और आलसी कर्मचारियों को सबक सिखाने के लिए ऐसा नियम बनाया गया है।

कंपनी ने प्रशासन को बताया है कि उसके यहां कई कर्मचारी ऐसे हैं जो आलसी और कामचोर है। ये कई कई बार टॉयलेट ब्रेक पर जाते हैं औऱ वहां एक एक घंटे तक सिगरेट फूंकते हैं। इससे कंपनी के काम और उत्पादन पर फर्क प़ड़ता है। कंपनी के मैनेजर ने ऐसे कर्मचारियों को कई बार समझाया, चेतावनी भी दी लेकिन कामचोर कर्मचारियों पर इसका असर नहीं हुआ। मजबूर होकर कंपनी को ऐसा नियम लाना प़ड़ा। हालांकि कर्मचारी समझ जाते हैं और काम पर ध्यान देते हैं तो ऐसा नियम हटा लिया जाएगा।

Next Story
Share it