Breaking News
Donate Now

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने युवती का वीडियो बनाकर अश्लील वेबसाइट में किया अपलोड

फिल्म इंडस्ट्री में बढ़ते वेब सीरीज को देखते हुये हुये अब कुछ लोग इसका गलत फायदा भी उठाने लगे हैं. इसी तरह का एक मामला मध्य प्रदेश के इंदौर में सामने आया है, जहां वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने एक युवती का अश्लील वीडियो बनाकर उसे पोर्न साइट पर अपलोड कर दिया गया. इस बात की जानकारी युवती को उसके एक परिचित से मिली तो उसने पुलिस में मामला दर्ज कराया. इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार आरोपियों के नाम मिलिंद और अंकित हैं.

जानकारी के अनुसार कुछ समय पहले युवती मिलिंद के संपर्क में आई थी. मिलिंद ने खुद को कास्टिंग डायरेक्टर बताया था और भरोसा दिलाया था कि वह वेब सीरीज में उसे काम दिलवा सकता है. इसी के लिए उसने युवती को मुंबई के विजय से मिलवाया था. इन दोनों ने मिलकर मूवी के लिए युवती से एक प्रोमो शूट करने को कहा और इसी प्रोमो के नाम पर इन्होंने युवती का अश्लील वीडियो बनाया गया.

युवती ने शिकायत में बताया कि आरोपियों ने इस वीडियो को पोर्न साइट्स पर अपलोड कर दिया. बाद में युवती को उसके एक परिचित ने बताया कि उसका वीडियो पोर्न साइट पर है. युवती की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी मिलिंद और अंकित नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. मिलिंद ने ही युवती को मुंबई के विजय से मिलवाया था, साथ ही अंकित ने वीडियो शूट किया था.

बताया जा रहा है कि एरोड्रम थाना इलाके के एक लग्जरी रिजॉर्ट गार्डन में युवती का यह वीडियो शूट किया गया था. युवकों ने गेस्ट के ठहरने के लिए रिजॉर्ट बुक किया था और वहां वीडियो शूट किया. पुलिस आरोपियों के बताए हुए ठिकाने पर जाकर इस बात की तस्दीक भी करेगी कि कहीं रिजॉर्ट संचालक की भूमिका भी संदिग्ध तो नहीं. इसके साथ ही वहां के रिकार्ड जप्त किए जाएंगे, ताकि मालूम चल सके कि आखिर उस दिन इनके साथ और कौन-कौन था.

राज्य साइबर सेल के पुलिस अधीक्षक जितेंद्र सिंह ने बताया कि युवती की शिकायत पर प्रकरण दर्ज कर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. उनसे पूछताछ में कुछ अन्य सहयोगियों के बारे में भी जानकारी मिली है. जल्द ही उन्हें भी हिरासत में लिया जाएगा. अब तक जानकारी मिली है कि आरोपी और भी युवतियों को अपना शिकार बना चुके हैं, अब तस्दीक की जा रही है कि आरोपियों का मुम्बई में किससे संपर्क था और कौन सहयोग करता था. यदि किसी की मिलीभगत हुई तक गिरफ्तार किया जाएगा.

error: Content is protected !!