Top
Pradesh Jagran

चमोली में फिर आई प्राकृतिक आपदा, बादल फटने से मची तबाही, मलबे में दबे कई घर

चमोली में फिर आई प्राकृतिक आपदा, बादल फटने से मची तबाही, मलबे में दबे कई घर
X

बचाव कार्य में जुटी एसडीआरएफ

चमोली/देहरादून। उत्तराखंड का चमोली जिले पर एक बार फिर प्राकृतिक आपदा की मार पड़ी है। चमोली विकास नगर घाट के मुख्य बाजार के ऊपर बादल फट गया, जिसके बाद भारी मात्रा में मलबा सड़कों पर बहने लगा। इस दौरान काफी सारा मलबा लोगों के घरों में आ गया, जिससे पूरे घाट बैंड में अफरा तफरी मच गई। लोगों ने किसी तरह अपनी जान बचाई, लेकिन बादल फटने की वजह से काफी मलवा लोगों के घरों में आ गया और जिससे काफी नुकसान लोगों को पहुंचा है।

हालांकि किसी के हताहत होने की अभी तक कोई जानकारी नहीं है, वहीं जनपद में लागतार मूसलाधार बारिश जारी है। जानकारी के मुताबिक मलबे में कई दुकानें और घर दब गए, लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ। स्थानीय अधिकारी और एसडीआरएफ मौके पर मौजूद हैं और बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। शुरुआती जानकारी में दो बच्चों समेत तीन लोगों को बचाया गया है।

मुख्यमंत्री ने दिए प्रभावितों को मदद पहुंचाने के निर्देश

इस भीषण आपदा के बाद राज्य के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने जिलाधिकारी से पूरी जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों को तुरंत राहत पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने खुद ट्वीट कर बताया, "चमोली जिले के घाट में अतिवृष्टि से हुए नुकसान की जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी चमोली को फोन कर प्रभावितों तक तुरंत राहत पहुंचाने के निर्देश दिए।"

एक और ट्वीट में प्रभावितों को सहायता राशि उपलब्ध कराने की बात करते हुए कहा, "राज्य सरकार द्वारा घायलों के समुचित उपचार और बेघर लोगों के भोजन और रहने की संपूर्ण व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी और लोगों को हुए नुकसान का आकलन कर प्रभावितों को जल्द से जल्द सहायता राशि उपलब्ध करवाई जाएगी।"

Next Story
Share it