Top
Pradesh Jagran

यूपी ​बजट 2021 : वित्त मंत्री की घोषणा, अभ्युदय योजना में मेधावियों को दिए जाएंगे टैबलेट

यूपी ​बजट 2021 : वित्त मंत्री की घोषणा, अभ्युदय योजना में मेधावियों को दिए जाएंगे टैबलेट
X

- युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की निःशुल्क कोचिंग के लिए सरकार ने शुरू की है योजना


लखनऊ। प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए पेपरलेश बजट पेश करते हुए सदन में कहा कि अभ्युदय योजना के तहत छात्रों को टैबलेट दिए जाएंगे। युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निःशुल्क कोचिंग प्रदान करने के उद्देश्य से देश सरकार ने हाल ही में एक अभिनव पहल करते हुए यह योजना प्रारम्भ की गयी है।

वित्त मंत्री ने कहा कि युवाओं के उत्थान के लिए मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 में पात्र छात्रों को टैबलेट उपलब्ध कराया जाएगा। वहीं, प्रदेश के बच्चों के सर्वांगीण शारीरिक विकास सुनिश्चित करने के उद्देश्य से संचालित पुष्टाहार कार्यक्रम के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 में 4,094 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित की गई है। राष्ट्रीय पोषण अभियान के लिए 415 करोड़ की धनराशि का प्रावधान किया गया है।

महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए प्रदेश सरकार राज्य में मिशन शक्ति का संचालन कर रही है। इसी क्रम में महिला शक्ति केंद्रों की स्थापना के लिए बजट में 32 करोड़ की धनराशि प्रस्तावित की गई है। संस्कृत विद्यालयों में अध्ययनरत निर्धन छात्रों को गुरुकुल पद्धत्ति के अनुरूप निःशुल्क छात्रावास व भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

वित्त मंत्री के मुताबिक उत्तर प्रदेश के 12 अन्य जनपदों में मॉडल कैरियर सेंटर स्थापित किए जाने की योजना प्रस्तावित है। इससे बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार से जोड़ने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा कि इसके साथ ही प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए सरकार सतत प्रयासरत है। इसके लिए युवा खेल विकास एवं प्रोत्साहन योजना के लिए 8.55 करोड़ की व्यवस्था प्रस्तावित है। ग्रामीण क्षेत्रों में युवा फिटनेस को बढ़ावा देने के लिए ग्रामीण स्टेडियम एवं ओपन जिम के निर्माण के लिए 25 करोड़ की बजट व्यवस्था प्रस्तावित है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए जनपद मेरठ में नए स्पोर्ट्स विश्वविद्यालय की स्थापना हेतु 20 करोड़ का बजट प्रस्तावित है।

Next Story
Share it