Breaking News

यूपी बोर्ड: पहले ही दिन 22 फीसदी अभ्यर्थियों ने छोड़ दी अंक सुधार परीक्षा

यूपी बोर्ड 2021 की अंक सुधार परीक्षा शनिवार से शुरू हुई। पहली पाली में हाईस्कूल और दूसरी पाली में इंटरमीडिएट हिंदी विषय का प्रश्नपत्र था। पहले ही दिन हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के मिलाकर 22.91 फीसदी अभ्यर्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। हाईस्कूल में 4484 और इंटर में 9914 कुल 14398 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। सूबे में दोनों पालियों की परीक्षा के दौरान एक भी परीक्षार्थी नकल करते हुए नहीं पकड़ा गया।

पहली पाली में हाईस्कूल हिंदी/ प्रारंभिक हिंदी विषय का पेपर था। हाईस्कूल में 27253 पंजीकृत परीक्षार्थियों के सापेक्ष 4484 ने परीक्षा छोड़ दी। इंटरमीडिएट में कुल 35595 पंजीकृत विद्यार्थियों के सापेक्ष 9914 विद्यार्थी परीक्षा में अनुपस्थित रहे। प्रयागराज में कुल आठ केंद्रों पर परीक्षा हुई। जिले में दोनों पालियों को मिलाकर 1798 परीक्षार्थियों के सापेक्ष 367 अभ्यर्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। 20.4 फीसदी अभ्यर्थियों ने पहले दिन की परीक्षा छोड़ दी। जनपद में हाईस्कूल में कुल 719 छात्र परीक्षा में पंजीकृत रहे। इनमें से 577 उपस्थित रहे जबकि 142 विद्यार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी।

वहीं इंटरमीडिएट में कुल 1079 विद्यार्थी पंजीकृत रहे जबकि परीक्षा में 854 विद्यार्थी शामिल हुए। 225 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी। जिला विद्यालय निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा ने दोनों पालियों की परीक्षा के दौरान केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। राजकीय इंटर कॉलेज, जीजीआईसी शंकरगढ़, गोपाल इंटर कॉलेज कोरांव, बद्रीनाथ तिवारी इंटर कॉलेज मेजा, जीजीआईसी मुंगारी परीक्षा के दौरान निरीक्षण किया।

प्रदीप विश्वकर्मा की रिपोर्ट