Tuesday , February 18 2020
Home / एक्सक्लूसिव / गाँव जागरण / उप्र : बेतवा नदी में फिर छोड़ा गया 1.72 लाख क्यूसेक पानी, गांवों में गहरा रहा बाढ़ का कहर

उप्र : बेतवा नदी में फिर छोड़ा गया 1.72 लाख क्यूसेक पानी, गांवों में गहरा रहा बाढ़ का कहर

 

 

 

 

 

 

हमीरपुर। माताटीला और राजघाट बांध से 1.72 लाख क्यूसेक पानी बेतवा नदी में सोमवार को छोड़े जाने से यहां हमीरपुर में बेतवा नदी फिर उफनायेगी। वहीं हथनीकुंड से यमुना नदी में 593986 क्यूसेक पानी छोड़े जाने से तटवर्ती ग्रामों में बाढ़ कहर बरपायेगी। लगातार दोनों नदियों में लाखों क्यूसेक पानी पास किये जाने से सिंचाई विभाग के अभियंताओं में हड़कंप मच गया है। दोनों नदियों के जलस्तर पर ड्रोन कैमरे से नजर रखी जा रही है।

तीन दिन पहले हथनीकुंड से आठ लाख क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़ा गया था। बेतवा नदी में तीन लाख क्यूसेक पानी माताटीला बांध से पास किया गया था। लगातार बांधों से पानी छोड़े जाने से रविवार को यमुना और बेतवा नदियां लाल निशान के करीब पहुंच गयी थी लेकिन दोनों नदियों का जलस्तर शाम से घटने लगा है। हालांकि नदियों के जलस्तर घटने की रफ्तार एक सेमी प्रति घंटा है। दोनों नदियों की उफान से सैकड़ों बीघे की खरीफ की फसल बाढ़ के पानी में डूब चुकी है। तटवर्ती इलाकों में कई घरों में पानी घुसने से लोग सड़क पर आ गये हैं। अभी भी पारा सिडरा के पास टिकरौली जाने वाले मार्ग पर बाढ़ का पानी कई फीट भरा होने से एक दर्जन गांवों का सम्पर्क मुख्यालय से कटा हुआ है।

केन नदी का जलस्तर तेजी से बढऩे से मौदहा क्षेत्र के निचले इलाकों में बसे कई गांव बाढ़ की चपेट में आ गये है। सैकड़ों बीघे की फसलें पानी में बर्बाद हो गयी है। यमुना और बेतवा नदियों से घिरे हमीरपुर नगर को बाढ़ से बचाने के लिये रमेड़ी और पतालेश्वर मंदिर के पास फ्लैपबाल्व बंद है। बाल्व बंद होने से इन दोनों स्थानों पर पानी भर गया है। कई घर अभी भी पानी से घिरे है। जलनिगम ने दो-दो पम्पिंग सेट लगवाकर पानी बाहर निकाला जा रहा। सोमवार को दोपहर बाद यमुना नदी का जलस्तर 103.100 मीटर है जो लाल निशान से कुछ ही सेमी नीचे है। बेतवा नदी का जलस्तर इस समय 102.380 मीटर दर्ज किया गया है।

मौदहा बांध निर्माण खण्ड हमीरपुर के अधिशाषी अभियंता एके निरंजन ने बताया कि सोमवार को माताटीला बांध से 1 लाख क्यूसेक पानी बेतवा नदी में छोड़ा गया है। राजघाट बांध से भी 72 हजार क्यूसेक पानी इसी नदी में छोड़ा गया है। इसके अलावा हथनी कुंड से 593986 क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़ा गया है। लगातार बांधों से लाखों क्यूसेक पानी पास किये जाने से इसका असर मंगलवार से दिखने लगेगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले कोटा बैराज से आठ लाख क्यूसेक पानी तीन दिन पहले छोड़ा गया था जो अभी भी यमुना नदी में पास हो रहा है। झांसी डिवीजन बेतवा खण्ड के अधिशाषी अभियंता ने राजघाट और माताटीला बांध से पानी बेतवा नदी में छोड़े जाने की सूचना हमीरपुर समेत बुन्देलखण्ड के सभी जनपदों के जिलाधिकारियों व पुलिस अधीक्षकों को दे दी है।

TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr
Loading...

Check Also

योगी सरकार का बजट जनता की आकांक्षाओं के साथ छलावा : मायावती

  लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार …

TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com