Breaking News
Donate Now

मई में अप्रैल से ज्यादा लोग हुए बेरोजगारी का शिकार, आंकड़ों ने चौंकाया

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप फैला हुआ है, इसे रोकने के लिए सरकार ने लॉकडाउन किया था. इस लॉकडाउन में लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. इस दौरान कई लाखों लोगों को अपनी नौकरी से हाथ भी धोना पड़ा, कई मजदूरों ने अपनी जिंदगी भी खो दी.

बेरोज़गारी की दर को लेकर एक रिपोर्ट जारी की गयी है. जिसके अंतर्गत ये बताया गया कि मई में कितने लोग बेरोज़गार हुए. इस दौरान चौंकाने वाले आंकड़ें सामने आये हैं.

अगर बात करें सबसे ज्यादा बेरोजगारी की तो मई महीने में सबसे ज्यादा लोग बेरोज़गार हुए हैं. सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMIE) की रिपोर्ट के अनुसार 31 मई को समाप्त हुए हफ्ते में देश में बेरोजगारी की दर 23.48 प्रतिशत तक पहुंच गई है.

अप्रैल महीने में बेरोजगारी की दर 23.52 प्रतिशत थी. वहीं 24 मई को समाप्त हुए हफ्ते में बेरोजगारी की दर 24.3 प्रतिशत थी. ये दर लॉकडाउन लागू होने के पहले 8 हफ्तों की अवधि के औसत 24.2 प्रतिशत दर से अधिक है.

महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के अनुसार जनवरी 2020 में शहरी बेरोजगारी की दर 9.70 प्रतिशत थी वहीं मई में 16.09 प्रतिशत बढ़कर 25.79 प्रतिशत तक जा पहुंची है. उसी प्रकार जनवरी 2020 में ग्रामीण बेरोजगारी की दर 6.06 प्रतिशत थी जो कि मई महीने में 16.42 प्रतिशत बढ़कर 22.48 प्रतिशत पर पहुंच गई है.

CMIE की रिपोर्ट के अनुसार केंद्र सरकार ने मई महीने में 2 करोड़ लोगों ने फिर से नौकरी पर जाना शुरू किया है. जिसकी वजह से देश में रोजगार की दर 2 प्रतिशत बढ़कर 29 प्रतिशत पर पहुंच गई है. यही दर अप्रैल में 27 प्रतिशत पर थी. CMIE के मुताबिक 25 मार्च को लागू किये गये लॉकडाउन के कारण देश में करीब 12.20 करोड़ लोगों को नौकरी गंवानी पड़ी है.

error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com