Breaking News
Donate Now

डोनाल्ड ट्रंप ने वो किया, जिस पर चीन ने तरेरी थी आंखें

 

चीन की आपत्तियों के बावजूद ट्रंप ने हॉन्ग कॉन्ग पर बिल को दी मंज़ूरी

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन के विरोध के बावजूद कांग्रेस के दोनों सदनों में पारित हांगकांग में सरकार विरोधी प्रदर्शनकारी छात्रों के समर्थन में मानवीय अधिकार लोकतंत्र बिल पर बुधवार को हस्ताक्षर कर दिए। इससे दोनों देशों के बीच पिछले कुछ अरसे से चल रही कारोबारी जंग को और भड़कने का मौक़ा मिलेगा।

हांगकांग में चीन की शी जिन पिंग सरकार का एक विशेष प्रशासकीय क्षेत्र होने के नाते सीधा नियंत्रण है। चीन की सरकार को उम्मीद थी कि ट्रम्प इस विधेयक पर हस्ताक्षर करने की बजाय वीटो का इस्तेमाल करेंगे। चीन के विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता गेंग शुआंग ने इस माह के प्रारंभ में कांग्रेस में बिल के पारित होने के समय कहा था कि इससे दोनों देशों के बीच हांकांग में परस्पर रुचियों को ले कर मनमुटाव बढ़ेगा। उन्होंने चेतावनी दी थी कि अमेरिका ने इस दिशा में क़दम बढ़ाया तो चीन उसी भाषा में अमेरिका को जवाब देगा।

ट्रम्प ने पिछले सप्ताह ‘फाक्स एंड फ़्रेंड्स ‘’ वार्ता में मत व्यक्त किया था कि वह हांगकांग में छात्रों की भावनाओं के साथ हैं। हालांकि इसके साथ ही उन्होंने चीन के राष्ट्रपति के साथ होने की बात भी कही। तब उन्होंने कहा कि चीन के राष्ट्रपति उनके अनन्य मित्र हैं। इस एक्ट के बनने से अमेरिका की हांगकांग के प्रति 1992 की नीति में पुष्टि और संशोधन होगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com