Breaking News

कोरोना की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुुई, सावधानी बरतना जरूरी : स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने गुरुवार को बताया कि देश में कोरोना के मामले कम हुए हैं, लेकिन दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है। हम कोरोना की दूसरी लहर के मध्य में हैं, इसलिए लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है।

भूषण ने बताया कि देश में कुल मामलों का 68 प्रतिशत नए मामले केरल से आ रहे हैं। फिलहाल देश में 38 जिले ऐसे हैं, जहां 100 से ज्यादा मामले आ रहे हैं। वहीं हॉट-स्पॉट में भी गिरावट आ रही है।

राजेश भूषण ने गुुरुवार को आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि देश में एक्टिव मामले 3 से 4 लाख के बीच हैं और कोरोना महामारी से ठीक होने की दर 97 प्रतिशत से अधिक है। एक ही राज्य केरल में एक्टिव मामले दो लाख से अधिक हैं जो देश का 61 प्रतिशत है। महाराष्ट्र में एक्टिव मामले 50 हजार से अधिक हैं, जो कुल मामले का 13 प्रतिशत है।
उन्होंने बताया कि देश में तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामले 10 हजार से 50 हजार के बीच हैं। देश में साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 10 हफ्ते से तीन प्रतिशत से कम रही है। 35 जिलों में साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 10 प्रतिशत से अधिक है। 30 जिलों में यह दर 5 प्रतिशत से अधिक है, जो चिंता की बात है।

देश के 54 करोड़ लोगों को कोरोना रोधी टीके की पहली डोज दी जा चुकी है और 17 करोड़ से ज्यादा लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। देश में अबतक कुल 72 करोड़ डोज दी जा चुकी है। उन्होंने बताया कि 99 प्रतिशत हेल्थ केयर वर्कर को पहला और 84 प्रतिशत को दूसरा डोज दिया जा चुका है। वहीं, 100 प्रतिशत फ्रंट लाइन वर्कर को पहला डोज और 85 प्रतिशत को दूसरा डोज दिया जा चुका है।

तीन राज्य व केन्द्र शासित प्रदेश में 100 प्रतिशत व्यस्क को टीके की पहली डोज दी जा चुकी है। सिक्किम, दादरा नगर हवेली, त्रिपुरा, उत्तराखंड, मिजोरम, लक्ष्यद्वीप में 85 प्रतिशत व्यस्कों को पहली डोज दी जा चुकी है। कुल मिलाकर देश में 58 प्रतिशत व्यस्कों को कोरोना रोधी टीके की पहली डोज दी जा चुकी है।