Sunday , May 31 2020
Home / धर्म/एस्ट्रोलॉजी/अध्यात्म / हनुमान जयंती पर बदल जाएगी इन अशुभ ग्रहों की चाल, अपनी राशि के मुताबिक करें ये काम

हनुमान जयंती पर बदल जाएगी इन अशुभ ग्रहों की चाल, अपनी राशि के मुताबिक करें ये काम

इस साल 2020 में हनुमान जयंती का पर्व 8 अप्रैल को मनाया जाएगा. इस दिन अगर आप भी भगवान हनुमान जयंती के दिन भगवान की कृपा पाना चाहते हैं तो अपनी राशि के अनुसार हनुमान जयंती के दिन जरूर करें तो उपाय, ऐसा करने से कुंडली के अशुभल ग्रहों की चाल भी हनुमान जी की कृपा से बदल जाएगी.

मेष राशि- मेष राशि के जातक एकमुखी हनुमंत कवच का पाठ करें एवं हनुमान जी को बूंदी का भोग लगाने के बाद गरीब बच्चों में भी प्रसाद बांटे.

वृषभ राशि- वृषभ राशि के जातक श्रीरामचरित्र मानस के सुंदर कांड का पाठ करने के बाद हनुमान जी को मीठी रोटी का भोग लगाकर बंदरों को खिला दें.

मिथुन राशि- मिथुन राशि के जातक श्रीरामचरित्र मानस के अरण्य कांड का पाठ कर बजरंगबली को 5 पान का भोग लगाकर गाय माता को खिला दें.

कर्क राशि-कर्क राशि के जातक पंचमुखी हनुमंत कवच का पाठ करने के बाद हनुमान जी को पीले फूल चढ़ाकर बाद में फूल बहते जल में प्रवाहित कर दें.

सिंह राशि- कर्क राशि के जातक श्रीरामचरित मानस के बाल कांड का पाठ करने के बाद हनुमान जी को गुड़ से बनी मीठी रोटी का भोग लगाएं और बाद में उस रोटी को किसी भिखारी को खिला दें.

कन्या राशि- इस राशि के लोगों को हनुमान मंदिर जाकर घी के 6 दीपक जलाए और श्रीरामचरित मानस के लंका कांड का पाठ करें.

तुला राशि- इस राशि के लोगों को रामचरित्र मानस का पाठ करना चाहिए. हनुमान जी का भोग लगाएं और गरीब बच्चों को खीर खिलाएं.

वृश्चिक राशि- हनुमान अष्टक का पाठ करना चाहिए. इसके बाद चावल, गुड़ का भोग भगवान का भोग लगाना चाहिए.

धनु राशि- श्रीरामचरित्र मानस के अयोध्या कांड का पाठ करने के बाद हनुमान जी को शहद का भोग लगाकर स्वयं उसे प्रसाद के रूप में लेना चाहिए.

मकर राशि- इस राशि के लोगों को श्रीरामचरित्र मानस के किष्किन्धा कांड का पाठ करने के बाद हनुमानजी को मसूर का भोग लगातक उसे मछलियों को खिलाना चाहिए.

कुम्भ राशि- श्री रामचरित मानस के उत्तर कांड का पाठ करने के बाद हनुमान जी को मीठी रोटी का बोग लगाकर बाद में उसे भैसों को खिलाना चाहिए.

मीन राशि- इस राशि के जातक को हनुमंत बाहुक का पाठ करने से पहले हनुमान जी के मंदिर में लाल रंग की ध्वजा अपने हाथों से चढ़ाएं.

TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr
Loading...

Check Also

कल हैं न्याय के देवता शनिदेव की जयंती, जानें इसका महत्व

कल 22 मई है। मई के महीने में ज्योतिष एवं धार्मिक दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण …

TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com