Home / देश जागरण / देश के सबसे बुजुर्ग विधायक इस बार नहीं लड़ेंगे चुनाव, जानें क्यों

देश के सबसे बुजुर्ग विधायक इस बार नहीं लड़ेंगे चुनाव, जानें क्यों

नई दिल्लीः पीजेंट्स एंड वर्कर्स पार्टी के गनपतराव देशमुख व महाराष्ट्र की राजनीति के सबसे बुजुर्ग नेता ने आखिरकार 93 साल की उम्र में चुनावी राजनीति से सन्यास लेने का फैसला किया हैं। हालांकि उनकी पार्टी चाहती है कि वह चुनाव लड़े लेकिन उन्होंने इस बार चुनाव न लड़ने का फैसला किया है।

बता दें कि गनपतराव देशमुख की उम्र 93 साल है और अभी भी वह पूरी तरह स्वस्थ्य हैं लेकिन इस बार उन्हांने स्वास्थ्य कारणों से ही चुनाव व प्रचार से दूर रहने का फैसला किया है। उन्होंने पिछले साल अपनी योजनाओं की घोषणा की थी, लेकिन हाल ही में पीडब्ल्यूपी के महासचिव जयंत पाटिल ने देशमुख के निर्णय की आधिकारिक घोषणा की है, हालांकि उन्होंने कहा कि पार्टी की इच्छा है कि उन्हें चुनाव लड़ना चाहिए।

पश्चिमी महाराष्ट्र के सोलापुर जिला की सांगोल सीट पर विधायक रहे देशमुख का नाम सबसे लंबे समय तक विधायक रहने के रिकॉर्ड में द्रमुक के दिवंगत अध्यक्ष एम. करुणानिधि के बाद दूसरे स्थान पर है। जहां देशमुख 56 सालों तक विधायक रहे, वहीं करुणानिधि तमिलनाडु विधानसभा में 13 बार चुनकर 61 सालों तक विधायक रहे थे।

छात्र जीवन से ही वामपंथी विचारधारा से प्रभावित और प्रतिष्ठित देशमुख 1962 में विधायक बने थे जब आज के दौर के कई नेता या तो पैदा ही नहीं हुए थे या राजनीति में नहीं थे। इसके बाद से, 1972 और 1995 को छोड़कर उन्होंने सभी चुनाव जीते। इस दौरान वे 1978 में तत्कालीन मुख्यमंत्री शरद पवार की अगुआई वाली सरकार और उसके बाद 1999 में दिवंगत मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख की अगुआई वाली सरकार में मंत्री रहे।

पार्टी और प्रदेश की राजनीति में देशमुख की प्रतिष्ठा को जानते हुए भी पीडब्ल्यूपी ने उनके चुनाव न लड़ने के फैसले को स्वीकार करते हुए उद्योगपति भाऊसाहेब रूपनार को चुनाव लड़ाने का फैसला किया। हालांकि, इस फैसले से उपजे भारी असंतोष को देखते हुए पीडब्ल्यूपी ने अपना फैसला बदलते हुए देशमुख के पोते अनिकेत देशमुख को उम्मीदवार बनाया है। अनिकेत एक डॉक्टर हैं।

Loading...

Check Also

हरियाणा विस चुनाव : सनी देओल ने रोड शो कर भाजपा उम्मीदवार के लिए मांगे वोट

    फतेहाबाद। जिले की टोहाना विधानसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार एवं पार्टी के प्रदेश …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com