Top
Pradesh Jagran

इतिहास रचने के करीब जेम्स एंडरसन, हासिल कर सकते हैं ये बड़े रिकॉर्ड

इतिहास रचने के करीब जेम्स एंडरसन, हासिल कर सकते हैं ये बड़े रिकॉर्ड
X

नई दिल्ली। न्यूजीलैंड और फिर भारत के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के दिग्गज तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन के पास इतिहास रचने का मौका है। 39 वर्षीय एंडरसन के निशाने पर महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और दिग्गज गेंदबाज अनिल कुंबले के रिकॉर्ड हैं।

एंडरसन ने स्वदेश में 89 टेस्ट मैच खेले हैं और न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट और भारत के खिलाफ होने वाली पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने के बाद ये संख्या 96 तक पहुंच जाएगी। इस तरह से वह सचिन (94) का रिकॉर्ड तोड़ देंगे।

स्वदेश में सर्वाधिक टेस्ट मैच खेलने वाले क्रिकेटरों में अभी तेंदुलकर के बाद ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग (92), जेम्स एंडरसन, इंग्लैंड के एलिस्टेयर कुक और ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ (सभी 89 मैच) का नंबर आता है। सचिन तेंदुलकर ने 200 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें से 94 मैच उन्होंने स्वदेश मतलब भारत में खेले हैं।

एंडरसन इस दौरान एलिस्टेयर कुक के दो रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं। इनमें इंग्लैंड की तरफ से सर्वाधिक टेस्ट मैच खेलने का कुक (161 मैच) का रिकॉर्ड भी शामिल है। वह सर्वाधिक टेस्ट मैच खेलने वाले क्रिकेटरों की सूची में शिवनारायण चंद्रपॉल (164), राहुल द्रविड़ (164) और जैक कैलिस (166) को भी पीछे छोड़ सकते हैं।

तोड़ सकते हैं कुंबले का रिकॉर्ड

एंडरसन इस दौरान स्वदेश में 400 टेस्ट विकेट लेने वाले दुनिया के दूसरे गेंदबाज बन सकते हैं। वह इससे 16 विकेट दूर हैं। उन्होंने अब तक 89 टेस्ट मैचों में 384 विकेट लिए हैं। श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन ने 79 मैचों में 493 विकेट चटकाए हैं। वहीं, अनिल कुंबले ने 63 मैचों में 350 और स्टुअर्ट ब्रॉड ने 82 मैच में 334 विकेट स्वदेश में लिए हैं। एंडरसन आगामी टेस्ट मैचों में 6 विकेट ले लेते हैं तो वह कुंबले से आगे निकल जाएंगे। कुंबले के नाम टेस्ट में 619 विकेट हैं। एंडरसन 160 टेस्ट मैचों में 614 विकेट ले चुके हैं। वह क्रिकेट इतिहास के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाज हैं।

Next Story
Share it