Top
Pradesh Jagran

कोरोना : भारत के लिए अगले 20 घंटे भारी, कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा, जानें वायरल वीडियो का सच

भारत में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच अफवाहों का बाजार भी तेजी से गर्म हो रहा है। देश में कोरोना के मरीजों की संख्या 91 लाख के पार पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों में 44 हजार 59 नए मामले सामने आए हैं। देश में कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की दर बढ़कर 93.68 प्रतिशत हो गई है। इस बीच कोरोना वायरस से जुड़ा एक वीडियो कई दावों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर किय जा रहा है।

1 मिनट 13 सेकेंड के इस वीडियो में कहा गया है कि भारत के लिए अगले 20 घंटे बहुत ही भारी होंगे। खास बात तो यह है कि ऐसा कहने के लिए वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन यानी डब्ल्यूएचओ और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानी आईसीएमआर का हवाला दिया गया है।

डब्ल्यूएचओ और आईसीएमआर के हवाले से जारी इस संदेश के जरिए कहा गया है कि कल रात तक का समय भारत वासियों के लिए बहुत भारी होने वाला है। यदि लोगों ने घरों से बाहर निकलना यूं ही जारी रखा तो भारत में कोरोना का संक्रमण थर्ड स्टेज में पहुंच जाएगा। थर्ड स्टेज यानी कम्युनिटी ट्रांसमिशन और इसे रोक पाना भारत के लिए बहुत ही मुश्किल होगा। अगर भारत थर्ड स्टेज में जाता है तो 15 अप्रैल तक लगभग 50 हजार तक मौतें जो सकती हैं। परन्तु भारतीय अभी तक इसकी गंभीरता को नहीं समझ रहे हैं। वीडियो में अगले 72 से 108 घंटे तक घर में ही रहने की अपील की गई है। साथ ही वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करने को गुजारिश की जा रही है।

वीडियो की पड़ताल

हक़ीकत जानने के लिए 'प्रदेश जागरण' ने इस वीडियो की पड़ताल शुरू की। जब आईसीएमआर और डब्ल्यूएचओ की वेबसाइट पर जाकर चेक किया तो पता चला कि इस तरीके का कोई भी अलर्ट इन दोनों ही एजेंसियों के द्वारा जारी नहीं किया गया है। वीडियो भी पुराना है। मार्च में यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। बतातें चलें कि देश में कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा होने के साथ ही रिकवरी रेट अन्य देशों से बहुत बेहतर है।

Next Story
Share it