Top
Pradesh Jagran

बिहार में कोरोना से मौत के आंकड़ों में बड़े पैमाने पर हेराफेरी

बिहार में कोरोना से मौत के आंकड़ों में बड़े पैमाने पर हेराफेरी
X

पटना। बिहार में कोरोना से हुई मौतों के आंकड़े में बड़े घालमेल का खुलासा हुआ है। इसकी आशंका बहुत पहले से लगाई जा रही थी कि यहां मौत के सही आंकड़े छुपाए जा रहे हैं। और अब सरकार के रिकॉर्ड से ही इस बात पर से पर्दा उठ गया है।

बिहार में बहुत पहले से विपक्षी दल मौत के आंकड़ों में हेरफेर करने का आरोप लगाते रहे हैं। राज्य सरकार ने आंकड़ों में संशोधन करके इस आशंका को गहराने की वजह दी है। पहले सरकार ने 5529 मृतक बताए थे। इसके बाद 24 घंटे के अंदर यह संख्या 9429 पर पहुंच गई। स्वास्थ्य विभाग ने अपनी गलती मानी है। लोगों का कहना है कि अगर अस्पताल और श्मशान के आंकड़ों से अंदाजा लगाया जाए तो ये संख्या कहीं ज़्यादा निकलेगी।

दरअसल, बिहार सरकार हर दिन कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा जारी कर रही थी और ये आंकड़े जिलों से भेजी जा रही रिपोर्ट के आधार पर होते थे। अब जांच में पता चला है कि ज़िलों से मृतकों की जो संख्या भेजी जा रही थी उसमें बड़े पैमाने पर हेरा फेरी की गई है।

हाईकोर्ट की फटकार के बाद 18 मई को राज्य सरकार ने कोरोना से होने वाली मौत को लेकर जांच के लिए ज़िलों में दो तरह की टीम बनाई थी। दोनों स्तर की जांच में ये पाया गया है कि मौत के आंकड़े को छिपाया गया और सरकार को ग़लत जानकारी भेजी गई। अब सरकार ग़लत आंकड़े भेजने वालों पर कार्रवाई की बात कह रही है।

Next Story
Share it