Breaking News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफगानिस्तान पर बोला कि अस्थिरता बड़ी तो चरमपंथ को मजबूती मिलेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तजाकिस्तान में चल रही शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में अफगानिस्तान के मुद्दे पर कहा कि अगर वहां स्थिरता सामान्य नहीं हुई तो ये विश्व और पड़ोसी देशों के लिए खतरा हो सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो लिंक के जरिए शंघाई सहयोग संगठन के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

पीएम ने कहा कि हाल के अफगानिस्तान के घटनाक्रम का सबसे अधिक प्रभाव हम जैसे पड़ोसी देशों पर होगा और इसलिए इस मुद्दे पर क्षेत्रीय फोकस और सहयोग आवश्यक है।

अगर अफगानिस्तान में अस्थिरता और कट्टरवाद जैसी स्थिति बनी रहेगी तो इससे पूरे विश्व में आतंकवाद और चरमपंथी विचारधाराओं को बढ़ावा मिलेगा साथ ही अन्य उग्रवादी समूहों को भी हिंसा के माध्यम से सत्ता पाने का प्रोत्साहन मिल सकता है।

पीएम ने अपने इस वीडियो में कहा कि ड्रग्स,मानव तस्करी और अवैध हथियारों का अनियंत्रित प्रभाव पड़ सकता है,
उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में आधुनिक हथियार अफगानिस्तान में रह गए हैं जिसके कारण पूरे क्षेत्र में अस्थिरता का खतरा बन सकता है।

उन्होंने अफगानिस्तान के प्रति भारत की प्रतिबद्धता जताते हुए कहा, अफगानिस्तान तक मानवीय सहायता, बिना रुके पहुंचती रहे, इसलिए हम सभी को मिलकर यह सुनिश्चित करना चाहिए।