Breaking News
Donate Now

चाहिए सुकून के पल,तो बितायिये इन जगहों पर कुछ पल

पर्यटन डेस्क|

हरे पेड़ों और पहाड़ों से भरी खूबसूरत वादियां किसे नहीं अच्छी लगती हैं और लगे भी क्यों न जहां प्राकृतिक सुंदरता के साथ-साथ शांति और सुकून दोनों ही मौजूद हों। रोज की थकी हुई जिंदगी से सब परेशान हैं। ऐसे में एक बार छुट्टी लेना तो बनता है। अगर आपको चैन भरे पल बिताने के लिए जगह की तलाश है तो इस बार हम आपको घाटियों से अलग हटकर कुछ ऐसी जगहों के विषय में बताने जा रहे हैं जहां पहुंच कर थकान एकदम कम हो जाएगी।

चैल
ये हिमाचल प्रदेश का एक छोटा सा हिल स्टेशन है। 2250 मीटर पर स्थित इस हिल स्टेशन पर लोग एडवेंचर स्पोर्ट्स का लुत्फ उठाने पहुंचते हैं। चैल कभी पटियाला की राजधानी हुआ करती थी।

वृंदावन
परिवार के साथ किसी धार्मिक टूर पर जाना चाहते हैं, तो आपको वृंदावन जाना चाहिए. यहां बांके बिहारी टेंपल में श्री कृष्ण के दर्शन कर आपको आध्यात्मिक शांति मिलेगी। भगवान की जन्म नगरी वृंदावन में आने पर भी आपको निराशा नही होगी क्योंकि यहां पर भी घूमने के लिए बहुत सारी जगहें हैं।

बूंदी
राजस्थानी परंपरा को करीब से जानने के लिए आप बूंदी जरूर जाना चाहिए। ये शहर अपनी भव्य हवेलियों, महलों और बावड़ियों के लिए जाना जाता है।

ऊटी
आप पहाड़ों की रानी ऊटी का भी रुख कर सकते हैं। यहां की प्राकृतिक छटा देखकर आपके मन को अपार शांति मिलेगी। यहां के रोज गार्डन में आप 2000 प्रकार के गुलाबों के दर्शन भी कर सकते हैं। ऊटी जाकर यहां चॉकलेट म्यूजियम जाना ना भूलें। यहां आपको अलग-अलग तरह की चॉकलेट टेस्ट करने और देखने को मिलेंगी। भारत की विश्व प्रसिद्ध टॉय ट्रेन में सफर करने का मौका रोज थोड़ी मितला है। ऊटी जाने पर ऐसे मौके ना गवाएं और टॉय ट्रेन में बैठने का अनुभव लें।

ओरछा
ओरछा शायद दुनिया का ऐसा एक मात्र स्थान है, जहां श्रीराम को भगवान नहीं राजा कहा जाता है। ओरछा की रानी भगवान राम की भक्त थीं।ओरछा का किला बुंदेलखंड के राजाओं के शौर्य का प्रतीक है। ये विशाल किला राजा छत्रसाल और उनकी बेटी मस्तानी की याद दिलाता है। यहां होनेवाले लाइट शो में भी बुंदेलों की वीरता की गाथा देखी जा सकती है।

error: Content is protected !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com