Breaking News
Donate Now

न्यूजीलैंड ने लगातार दूसरे मैच में भारत को दी शिकस्त, 22 रनों से हराकर 2-0 से जीती श्रृंखला

 

ऑकलैंड। न्यूजीलैंड ने शनिवार को ऑकलैंड के ईडन पार्क मैदान पर खेले गए दूसरे वनडे मैच में भारत को 22 रनों से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है। न्यूजीलैंड ने भारत के सामने जीत के लिए 274 रनों का लक्ष्य रखा था, जवाब में भारतीय टीम 48.3 ओवरों में 251 रनों पर सिमट गई। भारत की तरफ से रवींद्र जडेजा ने सर्वाधिक 55 रन बनाए। जडेजा के अलावा श्रेयस अय्यर ने 52 और नवदीप सैनी ने 45 रन बनाए।

274 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम को पहला झटका 22 रन के निजी स्कोर पर लगा जब 3 रन के निजी स्कोर पर मयंक अग्रवाल आउट हो गए। मयंक को बैनेट ने टेलर के हाथों कैच आउट कराया। भारतीय टीम के दूसरे ओवर 6 चौके की मदद से 24 रन के निजी स्कोर पर बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन कीवी टीम के डेब्यूडेंट गेंदबाज काइल जैमीसन ने उन्हें बोल्ड कर दिया।

भारतीय टीम को तीसरा बड़ा झटका कप्तान विराट कोहली के रूप में लगा जो 15 रन के निजी स्कोर पर साउदी की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। टीम को चौथा झटका केएल राहुल के रूप में लगा जो 4 रन के निजी स्कोर पर कोलिन डिग्रैंडहोम की गेंद पर बोल्ड हो गए। भारत को पांचवां झटका केदार जाधव के रूप में लगा जो 27 गेंदों पर 9 रन बनाकर टिम साउदी का शिकार बने।

इसके बाद भारतीय टीम के विकेट लगातार गिरते रहे।हालांकि 8वें विकेट के लिए सैनी और जडेजा के बीच 76 रनों की साझेदारी से भारतीय उम्मीद जगी,लेकिन सैनी के आउट होने के बाद भारतीय पारी सिमटने में ज्यादा समय नहीं लगा। न्यूजीलैंड की ओर से हामिश बैनेट, टिम साउदी, कोलिन डिग्रैंडहोम और काइल जैमीसन को 2-2 विकेट मिले। एक विकेट जिमी नीशम के खाते में गया।

इससे पहले न्यूजीलैंड ने मार्टिन गुप्टिल (79) और रॉस टेलर (नाबाद 73) के अर्धशतकीय पारियों की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 273 रन बनाए। टेलर और गुप्टिल के अलावा हेनरी निकोल्स ने 41 और जैमिसन ने नाबाद 25 रन बनाए।

इस मुकाबले में भारत ने टॉस जीतकर न्यूजीलैंड को पहले बल्लेबाजी का निमंत्रण दिया। न्यूजीलैंड को हेनरी निकोल्स और मार्टिन गुप्टिल ने सधी हुई शुरुआत की। दोनों ने पहले विकेट के लिए 93 रनों की साझेदारी की। निकोल्स को युजवेंद्र चहल ने आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा।

निकोल्स 59 गेंद पर 41 रन बनाकर पगबाधा आउट हुए। पहला विकेट गिरने के बाद भी गुप्टिल ने एक छोर संभाले रखा। उन्होंने 49 गेंद पर 5 चौके और 2 छक्के की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया। कीवी टीम को दूसरा झटका 142 के कुल स्कोर पर टॉम ब्लंडेल के रूप में लगा जो 22 रन बनाकर शार्दुल की गेंद पर सैनी के हाथों कैच आउट हुए। न्यूजीलैंड का तीसरा विकेट मार्टिन गप्टिल के रूप में गिरा जो 79 गेंदों में 79 रन बनाकर रन आउट हो गए। मेजबान टीम को चौथा झटका टॉम लैथम के रूप में लगा जो 7 रन बनाकर जडेजा की गेंद पर पगबाधा आउट हुए।

भारत को पांचवीं सफलता रन आउट की रूप में मिली जब जडेजा ने डायरेक्ट हिट पर जेम्स नीशम को 3 रन के निजी स्कोर पर पवेलियन भेजा। छठा झटका न्यूजीलैंड को कोलिन डिग्रैंडहोम के रूप में लगा जो शार्दुल की गेंद पर 5 रन बनाकर श्रेयस के हाथों कैच आउट हुए। कीवी टीम को सातवां झटका युजवेंद्र चहल ने दिया, जिन्होंने मार्क चैंपमैन को 1 रन के निजी स्कोर पर कैच आउट किया।

न्यूजीलैंड को आठवां झटका टिम साउदी के रूप में लगा। साउदी 3 रन बनाकर चहल की गेंद पर सैनी के हाथों आउट हुए। इसके बाद टेलर और जैमिसन ने 9वें विकेट के लिए नाबाद 76 रनों की साझेदारी कर न्यूजीलैंड को 273 रनों तक पहुंचाया। टेलर 73 और जैमिसन 25 रन बनाकर नाबाद लौटे। भारत की तरफ से युजवेंद्र चहल ने तीन, शार्दुल ठाकुर ने 2 और रवींद्र जडेजा ने 1 विकेट लिया।

error: Content is protected !!