Breaking News
Donate Now

सीएए, एनपीआर व एनआरसी पर बनी माॅलीवुड की देहाती फिल्म ‘मुद्दा’

 

मुजफ्फरनगर। पूरे देश को हिलाने वाले सीएए, एनपीआर और एनआरसी जैसे मुद्दों की सच्चाई लोगों को बताने के लिए माॅलीवुड के देहाती फिल्म निर्देशक आगे आये हैं। फिल्म निर्देशक दिनेश चौधरी देहाती फिल्म ‘मुद्दा’ बनाकर तीन तलाक, दहेज, पानी की बर्बादी आदि विषयों को जनता के सामने लाने जा रहे हैं।

माॅलीवुड की देहाती हिन्दी फिल्मों के जाने-माने फिल्म निर्देशक दिनेश चौधरी ने 2004 में धाकड़ चोरा नामक फिल्म बनाकर देहाती फिल्मों को चर्चा में ला दिया था। उस समय केवल साढ़े चार लाख रुपये के बजट वाली धाकड़ छोरा फिल्म ने साढ़े आठ करोड़ रुपये का बिजनेस किया था। इस फिल्म ने देहाती फिल्मों के सुपर स्टार उत्तर कुमार ने काम किया था। दिनेश चौधरी ने अब पूरे देश को हिला देने वाले तीन तलाक, सीएए, एनपीआर, एनआरसी जैसे मुद्दों पर एक फिल्म ‘मुद्दा’ बनाई है। इस फिल्म को अंतिम रूप दिया जा रहा है। दिनेश चौधरी ने बताया कि इस फिल्म के जरिए समाज को प्रभावित करने वाले प्रत्येक मुद्दे को उठाया गया है। इनमें तीन तलाक, पानी की बर्बादी, सीएए आदि पर लोगों को जागरूक किया जाएगा।

यूट्यूब पर प्रदर्शित होगी फिल्म

मुद्दा फिल्म को राजलक्ष्मी फिल्म के बैनर तले यूट्यूब पर जल्दी ही प्रसारित की जाएगी। इस फिल्म में सुपर स्टार उत्तर कुमार व अभिनेत्री कविता जोशी मुख्य भूमिका में है। कविता जोशी, किरण नामक पात्र का किरदार निभा रही है, जो गांव में तमाम सरकारी योजनाओं की जानकारी देने के साथ गांव को तरक्की की राह पर ले जाने का प्रयास भी करती है। फिल्म में जहां तीन तलाक, दहेज, पानी की बर्बादी, पेड़ का कटान, वृक्षारोपण के साथ महिला को आगे कर चुनाव लड़ा खुद प्रधानी आदि करने वालों पर काफी तंज कसे गए है। इसमें एनआरसी, एनपीआर, सीएए, ओसीआर आदि कई मुद्दों को प्रमुखता से उठाया गया है। पात्रों के चयन में भी काफी सावधानी बरती गई है।

समाज को सीधे प्रभावित करेगी फिल्म

फिल्म में दर्शाया गया है कि अपने स्वार्थ, लाभ, नेताओं को खुश करने के लिए एक किरदार किस तरह अपने मजहब के लोगों को भड़काता है। किस तरह एक युवक के निकाह के टूटने को साजिश के तहत इतना बड़ा मुद्दा बना देता है कि क्षेत्र में दंगे के आसार बन जाते हैं। लोग एक दूसरे के खून के प्यासे होने लगते है। फिल्म एनआरसी आदि को लेकर उभर रहे कई सवालों का जवाब है। फिल्म के कई डायलाॅग लोगों को झकझोर देंगे।

इस फिल्म की शूटिंग पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अमरोहा जनपद के मंडी धनोरा क्षेत्र के बछरावां और सरकडा गांव में हुई है। फिल्म में लकी अली मेकअप मैन है। कैमरामैन अंकित चौधरी, गिरीश गौतम है। फिल्म में उत्तर कुमार, कविता जोशी, विकास बालियान, मोनू धनकड़, दीपक भारद्वाज, संतोष जांगरा, उषा देवी, रामवीर तोमर, रीना, सुरजीत सिरोही, राजीव सिरोही, अमित भरु, अमित सहोटा, मुस्तकीम, देवराज, चमन सिंह, आयशा खान, मोनू सहरावत, अभिषेक, प्रमोद कुमार, बिजेंद्र, विकास देवगन आदि ने मुख्य भूमिका निभाई है।

यूपी, एमपी, दिल्ली समेत कई राज्यों में हिट ‘माॅलीवुड’

बाॅलीवुड की तर्ज पर देहाती फिल्म जगत के एक शब्द ‘माॅलीवुड’ प्रचलित है। माॅलीवुड की फिल्मों का यूपी, दिल्ली, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, बिहार में क्रेज है। एक बड़े दर्शक वर्ग को माॅलीवुड की फिल्मों का इंतजार रहता है। हाल फिलहाल यूट्यूब पर प्रदर्शित हो रही माॅलीवुड की सभी फिल्में करोड़ों दर्शकों द्वारा देखी जाने वाली फिल्मों के क्लब में शामिल है। मुजफ्फरनगर, मेरठ, मुरादाबाद, अमरोहा, हापुड़, गजरौला देहाती फिल्म शूटिंग के गढ़ बन सकते है। फिल्म कलाकारों का कहना है कि अगर सरकार चाहे तो पश्चिमी उत्तर प्रदेश को माॅलीवुड सिटी के रूप में विकसित किया जा सकता है। माॅलीवुड की फिल्मों से हजारों लोगों को रोजगार मिल रहा है।

error: Content is protected !!