Top
Pradesh Jagran

महाकुम्भ 2021: पीएम की अपील पर जूना अखाड़ा ने कुम्भ का समापन,स्वामी अवधेशानंद ने की घोषणा

महाकुम्भ 2021: पीएम की अपील पर जूना अखाड़ा ने कुम्भ का समापन,स्वामी अवधेशानंद ने की घोषणा
X

जिस रफ़्तार से कोरोना पूरे देश में कहर मचा रहा है.ऐसे में सरकार भी अब काफी सतर्क हो गयी है.उत्तराखंड में कुम्भ में लगातार साधुओं के कोरोना संक्रमित होने के बाद प्रधानमंत्री की अपील का असर हो गया है। पीएम नरेंद्र मोदी के बातचीत के बाद शनिवार शाम आर्चाय महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि ने जूना अखाड़ा की तरफ से कुंभ के विधिवत समापन की घोषणा कर दी। अवधेशानंद गिरि ने ट्वीट कर कहा कि भारत की जनता और उसकी जीवन रक्षा हमारी पहली प्राथमिकता है। कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए हमने विधिवत कुंभ के आवाहित सभी देवताओं का विसर्जन कर दिया है। जूना अखाड़ा की ओर से यह कुंभ का विधिवत विसर्जन-समापन है।

पीएम ने की थी प्रतीकात्मक कुम्भ की अपील

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आम लोगों से अपील की कि अब कुंभ को प्रतीकात्मक ही रखा जाए. पीएम मोदी ने हरिद्वार में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं में कोरोना संक्रमण की खबरों के बाद लोगों से इस संकट काल में सहयोग की अपील की. पीएम मोदी की अपील के बाद महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद ने कहा था कि कुंभ अभी समाप्त नहीं हुआ है. उन्होंन अपील की थी कि बुजुर्ग और बच्चे शाही स्नान में न आएं. संत समाज बैरागियों के साथ है, उनके स्नान होने चाहिए. उन्होंने कहा कि कुंभ समाप्त नहीं होगा, हम आग्रह करते हैं कि श्रद्धालु कम संख्या में आएं.




दो अखाड़े कर चुके मेला समाप्ति का ऐलान

कुल 13 अखाड़ों में से निरंजनी अखाड़ा और आनंद अखाड़ा कुंभ मेला समाप्ति का ऐलान कर चुके हैं। दोनों ने 17 अप्रैल को कुंभ मेला खत्म होने का ऐलान किया है। दूसरी तरफ खबर है कि बीजेपी नेता बाकि अखाड़ों के प्रतिनिधियों से बात कर उन्हें समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि वह खुद ही शाही स्नान स्थगित कर कुंभ समाप्ति की घोषणा कर दें या फिर स्नान के लिए जब उनके अखाड़े आएं भी तो साधु कुछ ही संख्या में आएं।

Next Story
Share it