Top
Pradesh Jagran

हनुमान जयंती: इस विशेष संयोग,पूजा से मिलेंगे अद्भुत फल

हनुमान जयंती: इस विशेष संयोग,पूजा से मिलेंगे अद्भुत फल
X

हर साल चैत्र मास के शुक्ल पक्ष पूर्णिमा को हनुमान जयंती मनाई जाती है. इस साल ये दिन 27 अप्रैल, मंगलवार को है. इस दिन थोड़े से प्रयासों से ही बजरंग बली को प्रसन्न किया जा सकता है.

शुभ मुहूर्त-

चैत्र पूर्णिमा – मंगलवार, अप्रैल 27, 2021

पूर्णिमा तिथि प्रारम्भ – अप्रैल 26, 2021 को दोपहर 12:44 बजे

पूर्णिमा तिथि समाप्त – अप्रैल 27, 2021 को सुबह 09:01 बजे

इस साल विशेष संयोग

इस साल हनुमान जयंती पर कई विशेष संयोग बन रहे हैं। ग्रहों की बात करें तो इसस साल शनि हनुमान जयंती पर मकर राशि में रहेगा। सूर्य, बुध और शुक्र का योग मेष राशि बना हुआ है।

राहु वृषभ में और केतु वृश्चिक राशि में रहेंगे। इस प्रकार ग्रहों के इस उत्तम योग के कारण ही हनुमान जयंती का पर्व बहुत पुण्यदायी है। इसके साथ ही इस दिन मंगलवार भी है। मंगलवार का दिन हनुमान जी का कहा जाता है।

ऐसे करें हनुमान जी का पूजन

हनुमान जी को केसरी रंग भाता है. इसलिए उनकी पूजा में केसरी रंग का अधिक प्रयोग होगा. साफ लाल कपड़ा बिछाएं. हनुमान जी के साथ श्री राम जी का चित्र रखें.

हनुमान जी को लाल सिंदूर और चोला अर्प‍ित करें. पहले भगवान राम का पूजन करें. उन्हें फूल, फल आदि अर्पित करें.

इसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ करें. हनुमान जी को फूल, मिठाई अर्पित करें.

हनुमान जी को खुश करने के लिए चमेली के तेल का उपयोग करें. उन्हें चमेली का तेल अर्पित करें और जीवन से सभी कष्ट दूर करने की प्रार्थना करें.

हनुमान जी की पूजा लाल सिंदूर से की जाए तो हर बिगड़ा काम बन जाता है. कहा जाता है राम जी की लम्बी उम्र के लिए एक बार हनुमान जी अपने पूरे शरीर पर सिंदूर चढ़ा लिया था और इसी कारण उन्हें और उनके भक्तो को सिंदूर चढ़ाना बहुत अच्छा लगता है, जिसे चोला कहते है.

Next Story
Share it