Top
Pradesh Jagran

अब घर पर ही कर सकेंगे कोरोना की जांच, जानें कीमत और जांच का तरीका

अब घर पर ही कर सकेंगे कोरोना की जांच, जानें कीमत और जांच का तरीका
X

नई दिल्ली। अब लोग घर बैठे ही कोविड-19 का टेस्ट कर सकेंगे। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने रैपिड एंटीजन टेस्ट (आरएटी) के घरेलू उपयोग की मंजूरी दे दी है। एंटीजन की रिपोर्ट जहां तुरंत मिल जाती है, वहीं आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट 24 घंटे में आती है। अब होम बेस्ड टेस्टिंग किट से जांच में तेजी आएगी ही साथ ही लोग घर बैठे ही कोरोना की जांच कर सकते हैं।

आईसीएमआर के मुताबिक, अब आप घर पर ही 250 रुपए की कीमत वाले किट को खरीदकर 15 मिनट के भीतर कोविड रिजल्ट पा सकते हैं। इस किट में 5 से 7 मिनट में पॉजिटिव रिजल्ट का पता चल जाएगा और निगेटिव में यह 15 मिनट का समय लेगा।

आईसीएमआर ने कहा है कि घर पर आरएटी किट का इस्तेमाल वो लोग ही करें जिनमें कोरोना के लक्षण हैं.। बिना सोचे समझे ये टेस्ट ना करें। लेकिन जिन लोगों में कोरोना के लक्षण हैं और वो अगर आरएटी में नेगेटिव आते हैं, तो उन्हें तुरंत आरटी-पीसीआर टेस्ट करवाना चाहिए। ये इसलिए है क्योंकि हमने देखा है कि जिन मरीज़ों में वायरस का लोड (मात्रा) कम होता है, कई बार उनमें आरएटी के ज़रिये कोविड-19 की पुष्टि नहीं हो पाती। हालांकि, नेगेटिव आने के बाद भी कोरोना के लक्षण वाले लोगों को स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बताई गई सावधानियों का पालन करना चाहिए और उन्हें कोरोना के एक संभावित मरीज़ के तौर पर लिया जाना चाहिए।

घर पर टेस्ट कैसे करें

आईसीएमआर ने कहा है कि आरएटी किट के साथ दिये गए पर्चे पर उसके इस्तेमाल से जुड़ी सारी जानकारियाँ होती हैं। उन्हें पढ़कर, उनका पालन करें। संस्थान के अनुसार, गूगल प्ले-स्टोर और एप्पल स्टोर पर होम टेस्टिंग की जानकारी देने वाले मोबाइल ऐप भी हैं। जिन्हें घर पर जांच कर रहे लोग डाउनलोड कर सकते हैं।

आईसीएमआर के अनुसार, घर पर जांच कर रहे सभी लोग टेस्ट की तस्वीर मोबाइल फ़ोन के ज़रिये ऐप में अपलोड कर, अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

आईसीएमआर ने बताया कि लोगों का डेटा एक सिक्योर सर्वर पर रहेगा जो आईसीएमआर के कोविड-19 टेस्टिंग पोर्टल से जुड़ा है। यहीं सारा डेटा एकत्र किया जाता है। इस नई प्रक्रिया में मरीज़ों की गोपनीयता बनाकर रखी जायेगी।

बता दें कि आइसीएमआर ने होम बेस्ड टेस्टिंग किट के लिए भारत में केवल एक कंपनी माई लैब डिस्कवरी सॉलूशन को को मंजूरी दे दी है। टेस्ट के नतीजे को किट के निर्देश के अनुसार एप पर डाउनलोड करना होगा। होम टेस्टिंग मोबाइल ऐप गूगल प्ले स्टोर और एपल स्टोर में उपलब्ध है। इसे सभी यूजर्स डाउनलोड कर सकते हैं। मोबाइल ऐप टेस्टिंग प्रक्रिया का एक व्यापक मार्गदर्शक है, जो पॉजिटिव या निगेटिव रिजल्ट प्रदान करेगा। इस ऐप का नाम माईलैब कोविससेल्फ नाम है।





Next Story
Share it