Top
Pradesh Jagran

अब इस किट से घर पर खुद टेस्ट कर सकेंगे एंटीबॉडी, जानिए कीमत और उपलब्धता

अब इस किट से घर पर खुद टेस्ट कर सकेंगे एंटीबॉडी, जानिए कीमत और उपलब्धता
X

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण से जुड़ी जांच को लेकर आसान और तेज तरीके खोजे जा रहे हैं। अब डीपकोवन (DIPCOVAN) नाम से एंटीबॉडी डिटेक्शन किट तैयार की गई है। इस किट से जरिए आप घर पर ही अपनी एंटीबॉडी टेस्ट कर सकेंगे।

यह किट डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (डीआरडीओ) की लैब डिफेंस इंस्टीट्यूट ऑफ फिजियोलॉजी एंड अलाइड साइंसेज (डीआईपीएएस) ने दिल्ली स्थित फर्म वैनगार्ड डायग्नोस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड के साथ मिलकर तैयार की है।

एंटीबॉडी डिटेक्शन किट को COVID-19 संबंधित एंटीजन को पहचान करने के लिए मानव प्लाज्मा में IgG एंटीबॉडी की गुणात्मक पहचान को पहचानने के लिए डिजाइन किया गया है।

आईसीएमआर ने दी मंजूरी

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के जरिए अप्रैल 2021 में किट को मंजूरी दी गई है। डीआरडीओ के कथन के अनुसार, DIPCOVAN आपको रिजल्ट देने में तेज है क्योंकि एक टेस्ट करने में केवल 75 मिनट लगते हैं। ये 18 महीने तक की सेल्फ लाइफ के साथ आता है।

डीआरडीओ के जरिए जारी आधिकारिक बयान में कहा गया है कि, "लॉन्च के समय आसानी से उपलब्ध स्टॉक 100 किट (तकरीबन 10,000 टेस्ट) होगा, जिसकी प्रोडक्टिव कैपेसिटी लॉन्च के बाद 500 किट/महीने होगी। ये तकरीबन 75 रुपये प्रति महीने के टेस्ट पर उपलब्ध होने की उम्मीद है। ये किट कोविड-19 महामारी विज्ञान को समझने और किसी व्यक्ति के पिछले SARS-CoV-2 जोखिम का आंकलन करने के लिए बहुत उपयोगी होगी।"

रक्षा मंत्री ने की प्रशंसा

बयान में आगे कहा गया है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने समय की इस जरूरत में किट डिजाइन करने के डीआरडीओ के प्रयासों की प्रशंसा की। ये किट डीपकोवन जून के पहले सप्ताह से बाजार में उपलब्ध होगी।

डीपकोवन कैसे करता है काम?

डीपकोवन एक COVID-19 एंटीबॉडी डिटेक्शन किट है जो आपको ये जानने में मदद कर सकती है कि आप अब तक घातक कोरोना वायरस के संपर्क में आए हैं या नहीं। ये आपको ये भी बता सकता है कि क्या आपने एंटीबॉडी का फॉर्म किया है। DIPCOVAN किट एक DIPAS-VDx COVID-19 IgG एंटीबॉडी माइक्रोवेल एलिसा है जो COVID-19 वायरस के स्पाइक और न्यूक्लियोकैप्सिड (S&N) प्रोटीन को पहचान सकती है। डिटेक्शन 97 फीसदी की हाई सेंसिटिविटी और 99 फीसदी की विशिष्टता के साथ होता है।

हालांकि, डीपकोवन किट का मुख्य उद्देश्य एंटीबॉडी का पता लगाना है, लेकिन, इसका इस्तेमाल COVID-19 महामारी विज्ञान के अध्ययन जैसे कि सीरो-सर्वे में भी किया जाएगा।


जून के पहले हफ्ते से बाजारों में होगी उपलब्ध

डीआरडीओ के आधिकारिक बयान के अनुसार, DIPCOVAN किट जून के पहले हफ्ते से बाजारों में उपलब्ध होगी और हर किट 75 रुपये की होगी। हालांकि, अभी ये स्पष्ट नहीं है कि केमिस्टों के पास ये होगा या केवल लैबोरैट्रीज की पहुंच तक ही होगी, ये आने वाले समय में पता चल जाएगा।

Next Story
Share it