Top
Pradesh Jagran

Lakhimpur: अष्ट धातु की धोखे में पीतल की मूर्तियां हुईं चोरी

Lakhimpur: अष्ट धातु की धोखे में पीतल की मूर्तियां हुईं चोरी
X

Lakhimpur/Dev Srivastava: प्राचीन मंदिर में एक बार फिर चोरों ने अपना हांथ साफ किया। 25 साल पहले हुई चोरी में इस मंदिर से अष्टु धातु की तीन बहुमूल्य मूर्तियां चोरी हुईं थी। जिसका पुलिस खुलासा नहीं कर पाई थी। वहीं 25 साल बाद चोरों ने फिर अष्टु धातु के धोखे में मंदिर में दोबारा स्थापित की गई तीन मूर्तियों पर अपना हांथ साफ किया।

02-3_resized

जानकारी के अनुसार सदर कोतवाली की चौकी शारदा नगर में स्थित बड़ा गांव में स्थित राम जानकी मंदिर बेहद पौराणिक है। सौकड़ों साल पुराने इस मंदिर में भगवान् राम, सीता और लक्ष्मण की अष्टु धातु की मूर्तियां स्थापित की गईं थी। जिनकी चोरी करीब 25 साल पहले मंदिर से हुई थी। इसके बाद मंदिर में पीतल से बनी तीनों भगवान् की मूर्तियां फिर से स्थापित की गईं। इस बार भी चोरों ने अष्ट धातु की मूर्ति जानकर इन पर हांथ साफ किया। बुधवार की रात हुई इस चोरी के बाद जब मंदिर के सरवराकार रामचन्द्र द्वारा पुलिस को लिखित तहरीर दी गई तो इस बात का खुलासा हुआ कि जो मूर्तियां इस बार चोरी हुईं हैं वह पीतल की थीं। हालांकि भले ही पुलिस इसे गम्भीरता से न ले रही हो लेकिन इस चोरी से एक बात साफ हो जाती है कि चोरों की फुर्ती पुलिस से कहीं ज्यादा है। आपको यह भी बता दें कि 25 साल पहले हुई चोरी में जिन तीन मूर्तियों की चोरी हुई थी उनकी कीमत करोड़ो में थी। इसके बावजूद पुलिस न तो चोरों को पकड़ सकी और न ही उन पौराणिक अष्ट धातु की मूर्तियों को बरामद कर पाई हैै।

Next Story
Share it