Top
Pradesh Jagran

कोरोना वायरस: आउट ऑफ़ कण्ट्रोल हुआ कोरोना,पूरे भारत में आये सबसे ज़्यादा दो लाख केस,लखनऊ में फुल हुए अस्पताल और श्मशाम घाट

कोरोना वायरस: आउट ऑफ़ कण्ट्रोल हुआ कोरोना,पूरे भारत में आये सबसे ज़्यादा दो लाख केस,लखनऊ में फुल हुए अस्पताल और श्मशाम घाट
X

भारत में कोरोना का कहर लगातार जारी है.कोरोना के मामले रोज नए रिकॉर्ड बना रहे हैं.धीरे धीरे संक्रमितों का ये आंकड़ा अब दो लाख तक पहुँच गया है.भारत में बुधवार को कोरोना वायरस के एक दिन में करीब दो लाख नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। वहीं, मौत के मामलों में भी लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। इस तरह से कोरोना की दूसरी लहर लगातार नए-नए रिकॉर्ड स्थापित कर रही है, जो डरावनी तस्वीर पेश कर रही है।

24 घंटे में 2 लाख हुए संक्रमित

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में बुधवार रात तक संक्रमण के 199,569 नए मामले दर्ज किए गए। यह महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में मिलने वाले नए कोरोना संक्रमितों का सर्वाधिक आंकड़ा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इस अवधि में 1037 लोगों की मौत हो गई। अब तक के कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1 ,40 ,70 ,300 हो गई है। कोरोना से पीड़ित लोगों के ठीक होने की दर और गिरकर 89.51 प्रतिशत ही है।

इतने हैं मरनेवालों की संख्या

आंकड़ों पर गौर किया जाए तो महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 1,73,152 हो गई है। उपचाराधीन लोगों की संख्या भी बढ़कर 1365704 हो गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 9.24 प्रतिशत है। अब तक 12426146 कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं, कोरोना मृत्यु दर 1.24 प्रतिशत है। देश में एक्टिव केसों की संख्या 1465877 है। बता दें कि लगातार 36वें दिन कोरोना के मामलों में देश में बढ़ोतरी देखी जा रही है।

दिल्ली में स्थिति हो रही ख़राब,अब होगा होटलों में इलाज

महाराष्ट्र के बाद दिल्ली में भी कोरोना वायरस के मामले रोजाना नए रेकॉर्ड बना रहे हैं। बुधवार को दिल्ली में कोरोना वायरस से 17, 282 लोग संक्रमित हुए हैं, वहीं 104 लोगों की मौत हुई है। देश की राजधानी में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों ने केजरीवाल सरकार की टेंशन बढ़ा दी है।

कोरोना पेशंट्स को बेहतर और तत्काल इलाज देने के लिए कई अस्पतालों के साथ बैंक्वेट हॉल और होटलों को जोड़ा गया है, जिससे बेड की संख्या बढ़ जाए और कोविड मरीजों को भर्ती होने में परेशानी न आए। हल्के लक्षण वाले मरीजों का बैंक्वेट हॉल में और गंभीर मरीजों का अस्पताल में इलाज किया जाएगा। 23 अस्पतालों को होटल और बैंक्वेट हॉल से जोड़ा गया है।

भर गए सभी अस्पतालों के बेड

दिल्ली में वेंटिलेटर सहित कोविड-19 आईसीयू बिस्तर की सुविधा वाले 94 में से 69 अस्पतालों में सारे बिस्तर भर गए हैं और केवल 79 बिस्तर खाली हैं। एक आधिकारिक ऐप में दिए गए आंकड़ों में बुधवार को यह जानकारी सामने आई। दिल्ली कोरोना ऐप के अनुसार, दोपहर दो बजे तक, 110 अस्पतालों में से 75 में बिना वेंटिलेटर वाले सभी कोविड-19 आईसीयू बिस्तर भरे थे।

मुंबई के हालात हुए बेहद ख़राब

कोरोना के दूसरी लहार में सबसे ज्यादा मामले देश के महाराष्ट्र से आ रहे हैं.पिछले 24 घंटे में 58,952 नए मामले सामने आये हैं.वहीँ 278 मरीजों की मौत हो गयी है.महाराष्ट्र में सक्रिय मामले 6,12,070 पहुँच गयी है.

लखनऊ में अस्पताल और श्मशान सभी हुए फुल

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना वायरस ने कोहराम मचा रखा है। कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते अस्पताल भरे हुए हैं। संक्रमण के साथ ही वायरस के शिकार लोगों की मौत की संख्या भी बढ़ती जा रही है। हालत कितनी बिगड़ गई है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि शमसान घाटों और कब्रिस्तानों में अंतिम संस्कार के लिए लंबा इंतजार करना पड़ रहा है।

राजधानी में कोविड संक्रमण के चलते मौतों की संख्या में पिछले कुछ दिनों में काफी बढ़ गई है। भैसाकुंड पर सामान्य दिनों में 10 से 15 शवों का अंतिम संस्कार पारंपरिक तरीके से किया जाता रहा है जबकि विद्युत शवदाह गृह में 5 से 10 शवों का अंतिम संस्कार होता है। गुलालघाट पर 7 से 10 शवों का अंतिम संस्कार होता है जबकि 4 से 6 शव विद्युत शवदाह गृह में जलाए जाते हैं। रविवार को भैंसाकुंड पर 42 शव अंतिम संस्कार के लिए लाए गए थे और गुलालघाट पर यह संख्या 27 थी। एक दिन बाद सोमवार को भैंसाकुंड पर आने वाले शवों की संख्या बढ़कर 57 हो गई जबकि गुलालघाट पर 29 शवों को अंतिम संस्कार के लिए लाया गया। इनमें से अधिकांश कोविड पॉजिटिव थे।

रविवार को भैंसाकुंड पर 42 शव अंतिम संस्कार के लिए लाए गए थे और गुलालघाट पर यह संख्या 27 थी। एक दिन बाद सोमवार को भैंसाकुंड पर आने वाले शवों की संख्या बढ़कर 57 हो गई जबकि गुलालघाट पर 29 शवों को अंतिम संस्कार के लिए लाया गया। इनमें से अधिकांश कोविड पॉजिटिव थे।

Next Story
Share it