Top
Pradesh Jagran

कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ, जिंदगी बचाने के लिए वैक्सीन बेहद जरूरी : नरेन्द्र मोदी

कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ, जिंदगी बचाने के लिए वैक्सीन बेहद जरूरी : नरेन्द्र मोदी
X

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बुद्ध पूर्णिमा पर वेसाक वैश्विक समारोह को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित किया। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने कोरोना को लेकर भी अपनी बात रखी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना खत्म नहीं हुआ है। भारत समेत कुछ देशों में दूसरी लहर आयी है। मानव ने दशकों में ऐसे संकट का सामना नहीं किया। ऐसे में लोगों का जीवन बचाने और महामारी को हराने के लिए वैक्सीन बेहद जरुरी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह महामारी कई लोगों के दरवाजे पर दुख और दर्द लेकर आयी है। मैं उन लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं जिन्होंने महामारी में अपने प्रियजनों को खो दिया।

मोदी ने कहा कि कोरोना की वजह से पूरी दुनिया संकट में है। आर्थिक रूप से भी काफी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि हमारा ग्रह कोरोना के बाद पहले जैसा नहीं रहेगा। भविष्य में घटनाओं को कोरोना से पहले और कोरोना के बाद के तौर पर याद किया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने पिछले एक साल में कोरोना से निपटने के लिए भारतीय वैज्ञानिकों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि हमारे पास इस महामारी से लड़ने की अच्छी समझ है। उन्होंने कहा कि भारतीय वैज्ञानिकों ने एक साल के अंदर वैक्सीन तैयार कर बड़ी उपलब्धि हासिल की है। मैं अपने फ्रंटलाइन हेल्थकेयर वर्कर्स, डॉक्टरों, नर्सों को सलाम करता हूं, जो निस्वार्थ भाव से दूसरों की सेवा करने के लिए अपनी जान जोखिम में डालते हैं।

मोदी ने कहा कि कोरोना के अलावा मानवता की सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक जलवायु परिवर्तन भी है। भारत उन देशों में शामिल है जो पेरिस एक्ट के नियमों को पूरा करने में जुटा है। उन्होंने कहा कि भगवान बुद्ध ने कहा है कि प्रकृति माता का सम्मान सर्वोपरि है। भगवान बुद्ध का जीवन सद्भाव और सहअस्तित्व का संदेश देता है। वेसाक भगवान बुद्ध के जीवन का जश्न मनाने और भगवान बुद्ध के आदर्शों और बलिदानों को याद करने का दिन है। मैं आज वेसाक बुद्ध पूर्णिमा दिवस का हिस्सा बनकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं।

Next Story
Share it