Top
Pradesh Jagran

पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज का भी मुकम्मल इंतजाम : योगी आदित्यनाथ

पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज का भी मुकम्मल इंतजाम : योगी आदित्यनाथ
X

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार कोरोना संक्रमितों के साथ ही पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज का मुकम्मल इंतज़ाम कर रही है। पोस्ट कोविड का मतलब है कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज नेगेटिव होने के बाद भी कई दिनों या महिनों तक उससे जुड़े लक्षणों या दुष्प्रभावों का अनुभव करता रहता है।

उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति को इलाज में कोई परेशानी न हो इसके लिए सरकार की तरफ से संसाधनों का भरपूर इंतज़ाम किया गया है। प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार यह सुनिश्चित करें कि जहां भी कोविड और पोस्ट कोविड इलाज के लिए अस्पताल या वार्ड निर्माण का कार्य चल रहा है, उसे शीघ्रातिशीघ्र पूरा किया जाए।

कोविड मैनजमेंट के सिलसिले में तीन दिवसीय दौरे पर मंगलवार दोपहर बाद गोरखपुर पहुंचे श्री योगी एम्स में बन रहे 100 बेड के पोस्ट कोविड वार्ड और 200 बेड एल-टू कोविड अस्पताल का निरीक्षण कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हमारी जीत सुनिश्चित है। तैयारियों में किसी भी स्तर पर कमी या लापरवाही कतई नहीं दिखनी चाहिए। लापरवाही किसी भी दशा में अक्षम्य होगी।

उन्होंने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पोस्ट कोविड वार्ड का गहन जायजा लेते हुए निर्देशित किया कि इसे जल्द से जल्द क्रियाशील किया जाए ताकि संक्रमण से ठीक होने के बाद किसी अन्य तकलीफ से गुजर रहे लोगों को पूर्ण स्वास्थ्य लाभ मिल सके।

उन्होंने कहा कि जो भी काम बाकी रह गया है उसे युद्धस्तरीय प्रयासों से पूरा किया जाए।मुख्यमंत्री ने 200 बेड के कोविड अस्पताल के कार्यों पर भी बारीकी से नज़र फेरी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट मॉडल पर हमने संक्रमण की रफ्तार को तेजी से काबू में कर लिया है लेकिन हमें किसी भी दशा में निश्चिंत नहीं रहना है। संसाधनों को लगातार बढ़ाते रहना है।

उन्होंने निर्देशित किया कि सभी कार्यों को जल्द पूरा कर 200 बेड के इस कोविड अस्पताल को जल्द से जल्द क्रियाशील बनाएं। उन्होनें यहां ऑक्सीजन पाइप लाइन का भी निरीक्षण किया।

श्री योगी ने जिला प्रशासन, एम्स प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि एम्स के पोस्ट कोविड वार्ड में 40 बेड को प्राथमिकता के आधार पर क्रियाशील किया जाए। पहले चरण के बाद बाकी 60 बेड को भी चालू करने के लिए काम जारी रहे।

गोरखपुर एम्स में 200 बेड को कोविड अस्पताल अंतरराष्ट्रीय विमान निर्माता कंपनी बोइंग के सहयोग से तैयार हो रहा है। मुख्यमंत्री ने निरीक्षण के दौरान कहा कि पहले चरण में 100 बेड शुरू करने के साथ बाकी के 100 बेड को क्रियाशील करने की दिशा में भी कम रुकना नहीं चाहिए।

निरीक्षण के समय सांसद रविकिशन, नगर विधायक डॉ राधामोहन दास अग्रवाल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, मंडलायुक्त जयंत नार्लीकर, जिलाधिकारी के विजयेंद्र पांडियन आदि भी मौजूद रहे।

Next Story
Share it