Top
Pradesh Jagran

जब गुलदार कमरे में बंद हो गया अपने प्रिय भोजन कुत्ते के साथ, फिर हुआ ये...

जब गुलदार कमरे में बंद हो गया अपने प्रिय भोजन कुत्ते के साथ, फिर हुआ ये...
X

बाघ की तुलना में तेंदुआ ज्यादा कुत्तों का शिकार करता है, उसके प्रिय भोजन में कुत्ता शामिल है. लेकिन उत्तराखंड के टिहरी में एक ऐसी घटना सामने आई है, जहां पर गुलदार और कुत्ता एक ही कमरे में रातभर के लिये कैद हो गए लेकिन सुबह दोनों ही सुरक्षित बाहर निकले, यह नजारा देखकर पूरा गांव आश्चर्यचकित हो रहा है.

रातभर एक ही कमरे में बंद रहे गुलदार और कुत्ता

टिहरी के भिलंगना ब्लॉक के ग्राम पौखाल मोलनों में शनिवार रात करीब 12 बजे एक गुलदार कुत्ते का शिकार करने के लिए उसके पीछे हुकम सिंह नेगी के कमरे में घुस गया. अचानक दरवाजा बंद होने से कुत्ता और गुलदार रातभर कमरे में कैद रहे. मकान मालिक को इसका पता चलने पर उन्होंने बाहर से दरवाजे की कुंडी लगा दी.

सुबह जिंदा बाहर निकला कुत्ता

रात को ही वन विभाग को सूचना दी. रविवार तड़के रेंज अधिकारी ओम प्रकाश शाह, वन दरोगा मेल सिंह पंवार, फतेह सिंह रावत, लक्ष्मण सिंह सजवाण और जसवंत पंवार पिंजरा और ट्रेंक्यूलाइज गन लेकर गांव पहुंचे. टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद दोपहर एक बजे तीन वर्षीय मादा गुलदार को पिंजरे में कैद कर दिया. कुत्ते की जान भी बच गई. रेंज अधिकारी शाह ने बताया कि गुलदार का पीपलडाली पशु चिकित्सालय में मेडिकल कराया जा रहा है. उसके बाद उसे सुरक्षित जगह छोड़ा जाएगा.

Next Story
Share it