Saturday , April 4 2020
Home / टेक्नोलॉजी / चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर ने भेजी चांद की नई तस्वीर, इसरो ने किया ट्वीट

चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर ने भेजी चांद की नई तस्वीर, इसरो ने किया ट्वीट

 

बेंगलुरु। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का चंद्रयान-2 भले ही चांद पर उतरने के दौरान कहीं खो हो गया हो लेकिन उसका ऑर्बिटर लगातार चांद से जुड़ी अहम जानकारी पृथ्वी पर भेज रहा है। इसरो ने चंद्रयान-2 के आर्टिबर में लगे हाई रिजॉल्यूशन कैमरे से ली गई नईं तस्वीरें जारी की हैं।

इस तस्वीर में चंद्रमा के सतह पर बड़े और छोटे कई गड्ढे नज़र आ रहे हैं। ऑर्बिटर हाई रिजोल्यूशन कैमरे चंद्रमा की सतह पर चंद्रयान-2 की हाई रिजोल्यूशन तस्वीरें मुहैया कराता है, जो कि पैंक्रोमैटिक बैंड (450-800 nm) पर संचालित होता है।

कुछ दिन पहले ही ऑर्बिटर से खींची तस्वीरों के जरिए इसरो ने विक्रम लैंडर की लोकेशन मिलने की जानकारी भी दी थी। सात सितंबर को लैंडर विक्रम को चांद की सतह पर हार्ड लैंडिंग हुई थी।

जिस वजह से लैंडर विक्रम से सम्पर्क टूट गया था। हालांकि इसके बाद में लैंडर के हार्ड लैंडिंग की पुष्टि नासा और इसरो के वैज्ञानिकों ने भी की। फिलहाल चांद की कक्षा में चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर मौजूद है जो 7,5 साल तक अपना काम करता रहेगा।

इसी ऑर्बिटर के कैमरे से ही चांद की क्लिक की गई तस्वीरें साझा की गई हैं, कुछ दिन पहले ही चांद की सतह पर लैंडर विक्रम की सटीक लोकेशन का पता लगाया गया था, ऑर्बिटर ने विक्रम लैंडर की एक थर्मल इमेज भी क्लिक की थी।

लेकिन चांद पर रात होने के बाद इसरो की लैंडर विक्रम से संपर्क करने की उम्मीदें खत्म हो गई थीं, भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो के दूसरे मून मिशन चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर की खराब लैंडिंग की जांच एक राष्ट्रीय स्तर की समिति (NRC)कर रही है।

TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr
Loading...

Check Also

कोरोना वायरस से निपटने में GOOGLE ने लिया बड़ा फैसला, दुनिया भर की सरकारों की ऐसे करेगा मदद

गूगल ने पूरी दुनिया के अपने उपयोगकर्ताओं के लोकेशन डेटा साझा करने का फैसला किया …

TwitterFacebookLinkedInWhatsAppEmailTumblr

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com