Breaking News
Donate Now

CBSE 12th Exam: नहीं एलॉट होगा नया एग्जाम सेंटर, छात्र अपने ही स्कूल में देंगे पेंडिंग परीक्षाएं

एचआरडी मिनिस्टर रमेश पोखरियाल निशंक ने सीबीएसई (CBSE) बोर्ड की पेंडिंग 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं के आयोजन के विषय में कहा है कि ये परीक्षाएं स्टूडेंट अपने ही स्कूल से देंगे, इनके लिये नये परीक्षा केंद्र नहीं बनाये जायेंगे। दरअसल कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। कोविड-19 और लॉकडाउन को देखते हुये स्टूडेंट्स और उनके अभिभावक लगातार मिनिस्ट्री से एग्जाम सेंटर्स के बारे में जानकारी मांग रहे थे, साथ ही उनका यह भी कहना था कि स्टूडेंट की सेफ्टी और हेल्थ के लिये एग्जाम सेंटर्स के बारे में सूचना मिलना बहुत जरूरी है।

चूंकि इस समय बहुत ट्रैवल करना और एक अंजान जगह की सेफ्टी को लेकर आश्वस्त होना आसान नहीं है इसलिये एचआरडी मिनिस्टर ने एग्जाम सेंटर एलॉटमेंट जैसे मुद्दे को ही खत्म कर दिया है। जिस स्टूडेंट का रजिस्ट्रेशन जिस स्कूल से है यानी की जहां से उसने पढ़ाई की है, उसे वहीं से एग्जाम देना होगा।

एचआरडी मिनिस्टर ने दूसरी बड़ी घोषणा करते हुये कहा कि अगर सब कुछ योजना के अनुसार चलता है तो बहुत संभावना है कि सीबीएसई बोर्ड के परिणाम जुलाई महीने के अंत तक घोषित कर दिये जायें। परीक्षा से लेकर परिणामों तक के बारे में ताजा सूचना आधाकारिक वेबसाइट पर समय-समय में प्रकाशित की जाती रहेगी।

शिक्षा मंत्री ने आगे कहा कि हम जल्दी से जल्दी रिजल्ट डिक्लेयर करने की कोशिश करेंगे क्योंकि स्टूडेंट्स को आगे की स्टडीज़ की योजना बनाने या हायर क्लासेस में एडमीशन के लिये इन परिणामों की आवश्यकता पड़ती है। इसी क्रम में जो परीक्षाएं हो चुकी थी, उनकी कॉपियों का मूल्यांकन शुरू हो चुका है। कोरोना और लॉकडाउन की वजह से शिक्षक घर से ही कॉपी जांचने का कार्य कर रहे हैं।

error: Content is protected !!