Top
Pradesh Jagran

2021 में अभी तक 44 बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

2021 में अभी तक 44 बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम
X

नई दिल्ली। सरकारी ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने दो दिन की राहत के बाद आज एक बार फिर पेट्रोल और डीजल के कीमत में बढ़ोतरी कर दी। आज अलग-अलग राज्यों में वहां के वैट की दर के हिसाब से डीजल की कीमत में प्रति लीटर 26 से 30 पैसे तक की बढ़ोतरी की गई है। वहीं पेट्रोल की कीमत में प्रति लीटर 27 पैसे की बढ़ोतरी हुई है। आज की बढ़ोतरी के बाद एक महीने की अवधि में (4 मई से लेकर आज 4 जून तक) राजधानी दिल्ली में पेट्रोल प्रति लीटर 4.21 रुपये और डीजल प्रति लीटर 4.75 रुपये प्रति लीटर तक महंगा हो गया है।

सरकारी ऑयल मार्केटिंग कंपनियों द्वारा आज की गई बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 94.76 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 85.66 रुपये प्रति लीटर हो गई है। इसी तरह मुंबई में आज की बढ़ोतरी के बाद पेट्रोल 100.98 रुपये और डीजल 92.9 9 रुपये प्रति लीटर के भाव पर बिक रहा है। कोलकाता में पेट्रोल की कीमत 94.76 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 88.51 रुपये प्रति लीटर हो गई है। चेन्नई में पेट्रोल की कीमत 96.23 रुपये और डीजल की कीमत 90.38 रुपये प्रति लीटर है। वहीं बेंगलुरु में पेट्रोल 97.92 रुपये प्रति लीटर और डीजल 90.81 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पेट्रोल 102.89 रुपये प्रति लीटर और डीजल 94 रुपये का स्तर पार करके 94.19 रुपये प्रति लीटर के भाव पर बिक रहा है। वहीं चंडीगढ़ में पेट्रोल की कीमत बढ़कर 91.14 रुपये और डीजल की कीमत 85.32 रुपये प्रति लीटर हो गई है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पेट्रोल 92 रुपये और डीजल 86 रुपये प्रति लीटर के स्तर को पार कर गया है। आज यहां पेट्रोल 92.04 रुपये प्रति लीटर के भाव पर और डीजल 86.05 रुपये के भाव पर बिक रहा है। इसी तरह बिहार की राजधानी पटना में आज पेट्रोल की कीमत बढ़ाकर 96.90 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 90.94 रुपये प्रति लीटर हो गई है।

आज पेट्रोल के दाम में हुए इजाफे के बाद साल 2021 में राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत में अभी तक प्रति लीटर 10.79 रुपये की बढ़ोतरी हो चुकी है। वहीं डीजल की कीमत में भी इस साल अभी तक प्रति लीटर 11.54 रुपये की बढ़ोतरी हो चुकी है। एक जनवरी को राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 83.97 रुपये प्रति लीटर थी, जो अब 10.79 रुपये की छलांग के साथ आज 94.76 रुपये प्रति लीटर हो गई है। इसी तरह 1 जनवरी को राजधानी दिल्ली में डीजल की कीमत 74.12 रुपये प्रति लीटर थी, जो अब 11.54 रुपये की तेजी के साथ 85.66 रुपये प्रति लीटर हो गई है।

सरकारी ऑयल मार्केटिंग कंपनियां इस साल अभी तक 44 बार पेट्रोल और डीजल की कीमत में बढ़ोतरी कर चुकी हैं। वहीं इसकी कीमत में सिर्फ चार बार मामूली कटौती की गई है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने जनवरी के महीने में 10 बार, फरवरी के महीने में 16 बार, मई के महीने 16 बार और जून के महीने में दो बार पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की है। वहीं मार्च में तीन बार और अप्रैल में एक बार पेट्रोल व डीजल की कीमत में मामूली कमी की गई थी।

आपको बता दें कि पेट्रोल और डीजल की कुल कीमत में केंद्र और राज्य के टैक्स की हिस्सेदारी इतनी अधिक है कि ये राजधानी दिल्ली में अपनी मूल कीमत से 1.65 गुना अधिक कीमत पर आम उपभोक्ताओं को मिल रही है। एक जून को की गई गणना के मुताबिक तब पेट्रोल की मूल कीमत (बेस प्राइस) 35.63 रुपये प्रति लीटर थी। आम उपभोक्ताओं को राजधानी दिल्ली में मूल कीमत के साथ ही केंद्र के टैक्स के रूप में 32.90 रुपये और राज्य के टैक्स (वैट) के रूप में प्रति लीटर 21.81 रुपये चुकाना पड़ रहा था। यानी 35.63 रुपये प्रति लीटर की मूल कीमत वाले पेट्रोल के लिए दिल्ली में आम लोगों को राज्य और केंद्र का टैक्स मिलाकर 54.71 रुपये बतौर टैक्स चुकाना पड़ रहा था। इसके अलावा डीलर का कमीशन प्रति लीटर 3.79 रुपये और पेट्रोल की ढुलाई प्रति लीटर 36 पैसे भी उपभोक्ताओं की जेब से ही जाते हैं। इस तरह 35.63 रुपये प्रति लीटर वाले पेट्रोल के लिए पूरे देश भर के अलग अलग राज्यों में वहां के वैट की दर के हिसाब से लोगों के 90 रुपये से 105 रुपये तक का भुगतान करना पड़ता है।

इसी तरह दिल्ली में एक जून को डीजल की मूल कीमत 38.16 रुपये थी। इसके ऊपर केंद्र का टैक्स 31.80 रुपये और राज्य का टैक्स (वैट) 12.50 रुपये प्रति लीटर का अधिभार था। इसके अलावा डीजल की ढुलाई प्रति लीटर 33 पैसे और डीलर का कमीशन प्रति लीटर 2.59 रुपये है। डीजल पर भी आम लोगों को केंद्र और राज्य के टैक्स के रूप में प्रति लीटर 43.30 रुपये चुकाना पड़ रहा था।

माना जा रहा है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में लगातार आ रही तेजी के कारण आने वाले दिनों में भी पेट्रोल और डीजल की कीमत में तेजी का दौर जारी रह सकता है। कमोडिटी एक्सपर्ट्स के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय बाजार की तेजी के कारण पेट्रोल और डीजल की कीमत में इस महीने तीन रुपये प्रति लीटर तक की और बढ़ोतरी की जा सकती है।

Next Story
Share it