Breaking News

बर्थडे स्पेशल : सोनू निगम ने महज 4 साल की उम्र में की थी गायकी की शुरुआत

मुंबई। फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर सिंगर व एक्टर सोनू निगम एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का एक ऐसा नाम हैं, जिन्होंने अपनी ख़ूबसूरत आवाज की बदौलत दर्शकों के दिलों में अपनी खास जगह बनाई।

30 जुलाई, 1973 को हरियाणा के फरीदाबाद में जन्मे सोनू निगम सिंगर आजम निगम और शोभा निगम के बेटे हैं। सोनू निगम ने महज 4 साल की उम्र में अपनी गायिकी की शुरुआत की थी। शुरुआत में वह अपने पिता के साथ शादी और पार्टियों में गाना गाया करते थे। धीरे-धीरे सोनू की गायिकी में उन रुचि बढ़ती गई और सिंगर बनने का सपना लिये बहुत कम उम्र में उन्होंने मुंबई आ गए।

उन्होंने हिन्दुस्तानी क्लासिकल गायक उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान से प्रशिक्षण लिया। 1995 में वे पापुलर टीवी शो ‘सा रे गा मा पा’ होस्ट करने लगे। इसी दौरान टी-सीरीज के मालिक गुलशन कुमार ने उन्हें फिल्म बेवफा सनम का गाना ‘अच्छा सिला दिया’ गाने का मौका दिया। लेकिन यह फिल्म उस समय किसी कारणवश समय से रिलीज नहीं हो पाई। लेकिन यह फिल्म जब रिलीज हुई तो फिल्म का यह गाना दर्शकों की जुबान पर चढ़ गया।

फैंस सोनू निगम की आवाज के दीवाने हो गए। इसके बाद सोनू ने पीछे मुड़ कर नहीं देखा और एक के बाद एक कई हिट गाने दिए। उन्होंनेे फिल्म बाॅर्डर में अनु मलिक द्वारा कम्पोज किए गए सांग ‘सन्देसे आते हैं’ को भी गाया जो कि सुपरहिट हुआ। वहीं फिल्म परदेस में ‘ये दिल’ गाने ने भी लोगों का दिल जीता। 1999 में टी सीरीज ने निगम का अल्बम दीवाना रिलीज किया, इसका संगीत साजिद वाजिद ने दिया था।

सोनू ने हिन्दी की कई अन्य फिल्मों में भी गाने गाए और कई पुरस्कार जीते। उन्हें फिल्म कल हो ना हो के टाइटल सांग और फिल्म अग्निपथ के गाने ‘अभी मुझमें है कही’ के लिए काफी सराहना मिली। उन्होंने रोमांटिक, राॅक, सैड, देशभक्ति जैसी हर तरह के गाने गाए और दर्शकों के दिलों पर अमिट छाप छोड़ी है। इसके अलावा वह कुछ फिल्मों में अभिनय करते भी नजर आये जिसमें बेताब, जानी दुश्मन,लव इन नेपाल आदि शामिल हैं। सोनू निगम के चाहने वालों की संख्या लाखों में हैं। सोनू निगम की निजी जिंदगी की बात करें तो उनकी पत्नी का नाम मधुरिमा मिश्रा है। दोनों का एक बेटा नेवान है।