Top
Pradesh Jagran

पश्चिम बंगाल और केरल में अलकायदा मॉड्यूल का भंडाफोड़, NIA की रेड में 9 संदिग्ध गिरफ्तार

पश्चिम बंगाल और केरल में अलकायदा मॉड्यूल का भंडाफोड़, NIA की रेड में 9 संदिग्ध गिरफ्तार
X

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने अपनी छापेमारी में पश्चिम बंगाल और केरल में अलकायदा के बड़े नेटवर्क के पर्दाफाश का दावा किया है। इस छापेमारी में 9 संदिग्ध आंतकियों को गरिफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि अलकायदा को लेकर बिल्कुल नए मामलों में छापेमारी की गई है। ये छापेमारी केरल ने एर्नाकुलम और पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में की गई है।

छापेमारी के दौरान 9 संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है। इस छापेमारी में एनआईए ने केरल के एर्नाकुलम से 3 जबकि बंगाल के मुर्शिदाबाद से 6 संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि इन आंतकियों के निशाने पर कई सुरक्षा प्रतिष्ठान थे। जिन संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी अधिकतर उम्र 20 वर्ष के आसपास बताई जा रही है। इन लोगों के बारे में पता चला है कि ये सभी मजदूर हैं। आतंकी साजिश को लेकर इनपुट मिलने के बाद इन पर निगाह रखी जा रही थी।

Al-Qaeda

बता दें कि NIA ने आज सुबह एर्नाकुलम (केरल) और मुर्शिदाबाद (पश्चिम बंगाल) में कई स्थानों पर एक साथ छापे मारे और अल-कायदा के पाकिस्तान प्रायोजित मॉड्यूल से जुड़े 9 आतंकवादियों को गिरफ्तार किया। इसको लेकर अलकायदा मॉड्यूल की मिली जानकारी मिली थी।

एनआईए को पश्चिम बंगाल और केरल सहित देश के विभिन्न स्थानों पर अल-कायदा के सदस्यों के एक अंतरराज्यीय मॉड्यूल के बारे में पता चला था जिसके बाद ये छापेमारी की गई। यह ग्रुप देश के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की योजना बना रहा था। एनआईए ने इसे लेकर केस दर्ज किया है और आगे की जांच पड़ताल जारी है।

NIA Head Quarter

एनआईए की गिरफ्त में आए इन संदिग्ध आतंकियों के पास से डिजिटल उपकरण, दस्तावेज, जिहादी साहित्य, धारदार हथियार सहित बड़े पैमाने पर अन्य सामग्रियां बरामद की है। अभी शुरुआती जांच में पता चला है कि सोशल मीडिया के जरिये पाकिस्तान स्थित अलकायदा के आतंकियों ने इन्हें कट्टरपंथी बनाया। पाकिस्तान से संचालित होने वाले इन लोगों को वहां बैठे आतंकियों ने दिल्ली सहित कई महत्वपूर्ण स्थानों पर अटैक करने के लिए उकसाया था।

एनआईए के मुताबिक हमले के मकसद से मॉड्यूल सक्रिय रूप से धन जुटाने में लिप्त था और गिरोह के कुछ सदस्य हथियारों और गोला-बारूद की खरीद के लिए दिल्ली की यात्रा करने की योजना बना रहे थे।

Next Story
Share it