Breaking News

कौशांबी के बुजुर्ग की गुमशुदगी के बाद अस्पताल प्रशासन के खिलाफ – F.I.R

बेली हॉस्पिटल से मई महीने में लापता बुजुर्ग श्याम लाल यादव के मामले में अस्पताल प्रशासन के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कर दी गई है, पुलिस का कहना है कि बुजुर्ग को तलाशने के लिए पूरा प्रयास किया जा रहा है अस्पताल में डॉक्टरों और कर्मचारियों से भी पूछताछ की गई है, राम लाल यादव कौशांबी के कड़ा धाम के रहने वाले निवासी हैं वह दिल्ली बिजली विभाग के रिटायर्ड कर्मचारी है और रिटायरमेंट के बाद वह गांव में ही रह रहे थे।

मई महीने की शुरुआत में जब रामलाल कि कोरोना से हालत बिगड़ी तो उनको 4 मई को अस्पताल में भर्ती किया गया था, 5 मई को रामलाल के बेटे राहुल से डॉक्टरों ने बताया कि रामलाल की हालत ज्यादा गंभीर हो गई है उन्हें आईसीयू में शिफ्ट किया जा रहा है, 8 मई को जब राहुल ने पिता का हाल लेने के लिए डॉक्टरों से संपर्क किया तो, पता चला कि आईसीयू में रामलाल है ही नहीं, राहुल या सुनकर अचंभित रह गया और कोरोना वार्ड होने के कारण राहुल को वार्ड में नहीं जाने दिया गया, उसने बहुत प्रयास किया लेकिन कुछ पता नहीं चला।

पुलिस और प्रशासन से जब राहुल को कोई मदद नहीं मिली तो उसने हाईकोर्ट की शरण ली, इसी बीच 26 मई को कैंट थाने में रामलाल की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की गई, हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान कोर्ट ने अस्पताल और पुलिस प्रशासन के खिलाफ कड़ी टिप्पणी की थी, इसी बीच 5 सितंबर को पुलिस ने बेली अस्पताल प्रशासन के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कर ली, इस मामले की विवेचना करें सेक्टर चंद्रभान प्रसाद ने बताया कि पुलिस बुजुर्ग की तलाश मैं कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं, बेली अस्पताल के कई कर्मचारियों और डॉक्टरों से पूछताछ की जा चुकी है।