Top
Pradesh Jagran

सहेली ने दोस्ती के रिश्तों को किया शर्मसार

सहेली ने दोस्ती के रिश्तों को किया शर्मसार
X

नैनीताल: कहते हैं दोस्ती एक ऐसी चीज होती है, जिसके सामने पूरी दुनिया झुकने को तैयार हो जाती है। लेकिन कुछ दोस्त ऐसे भी होते हैं जो दोस्ती के रिश्तों की अहमियत नहीं समझतें हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां एक दोस्त ने दोस्ती के रिश्तों को शर्मसार कर दिया है।

जी हां अनाथ किशोरी को उसकी मुंहबोली सहेली नैनीताल घुमाने के बहाने साथ ले आई। जिसके बाद सहेली तो अपने बॉयफ्रेड के साथ चली गई। अपनी सहेली को कुछ लड़कों के साथ कार में छोड़ दी। जिसके बाद कार में बैठे युवक किशोरी के साथ दुष्कर्म करने और उसके बाद हत्या की साजिश करने लगे। तो आइये बताते हैं क्या था पूरा मामला?

दोस्ती के रिश्तों

दरसल किशोरी ने बताया है कि उसके माता-पिता नहीं है। जब वह तीन साल की थी तो दिल्ली में बेबी नामक मैडम ने उसे आश्रम मे रहने के लिए जगह दे दिया। आश्रम में उसके बाहर आने-जाने पर पाबंदी थी। जिसके बाद अभी हाल ही में आश्रम के पास घर में एक चांदनी नामक लड़की मिली तो उसने उसे नैनीताल घुमाने की बात कही। जिसके बाद उस लड़की को खुशी का ठिकाना नहीं रहा क्योकि वह पहली बार इतने दूर वो घुमने जाने वाली थी।

23 अक्टूबर को किशोरी लड़की के साथ नैनीताल आ गई। तब दोनों ने होटल मे खाना खाया तो तभी चांदनी बॉयफ्रेड के साथ बाइक पर निकल गई और उसे कार सवार लड़को के हवाले कर गए। कालाढूंगी रोड के रास्ते मे लड़के कार मे उसके साथ संबंध स्थापित करने के बाद हत्या करने की बात करने लगे तो किशोरी के होश उड़ गये। युवकों ने गाड़ी स्टार्ट किया और सुनसान सड़कों पर जाने लगे।

जैसे ही लड़कों ने मंगोली से आगे सुनसान जगह पर लघुशंका के लिए कार रोकी तो तभी किशोरी जंगल की ओर दौड़ पड़ी। दो दिन जंगल में रात बिताने व भूख प्यास से व्याकुल किशोरी सुबह दस बजे फगुनियांखेत में एक व्यक्ति मनोज जोशी के घर पहुंची। सूचना पर पटवारी अमित शाह फगुनियांखेत पहुंचे। पटवारी के अनुसार किशोरी को विमर्श चाइल्ड लाइन को सौंपा गया है। वहीं चाइल्ड लाइन अधिकारीयों का कहना है कि लड़की कुछ बताने अभी असमर्थता जता रही है।

Next Story
Share it