Top
Pradesh Jagran

विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में सीबीआई का हरीश रावत को समन

विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में सीबीआई का हरीश रावत को समन
X

harish-rawat-fullदेहरादून : उतराखंड में विधायकों की खरीद-फरोख्त को लेकर सामने आए स्टिंग के मामले में एक बार फिर सीबीआई ने मुख्यमंत्री हरीश रावत को समन भेजा है। सीबीआई ने 26 दिसंबर को हरीश रावत को पूछताछ के लिए तलब किया है। माना जा रही है कि इस बार हरीश रावत की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। मालूम हो कि यह मामला हाईकोर्ट में भी चल रहा है। उत्तराखंड हाईकोर्ट में शुक्रवार को हरीश रावत के स्टिंग मामले को लेकर सुनवाई हुई। इस मामले में हरीश रावत के वकील का कहना था कि इस मामले में अगली सुनवाई 26 दिसंबर के पहले होनी चाहिए। सीबीआई ने कोर्ट में इसका विरोध किया। इस पर कोर्ट ने साफ कर दिया कि अगली सुनवाई सात जनवरी को ही होगी। इससे पहले सीएम रावत से इसी वर्ष 24 मई को सीबीआई मुख्यालय दिल्ली में करीब पांच घंटे तक पूछताछ की गई थी।

क्या है पूरा मामला?

राज्य में सियासी संकट के बीच एक स्टिंग की सीडी सामने आई थी। स्टिंग में मुख्यमंत्री हरीश रावत और स्टिंगकर्ता के बीच विधायकों की खरीद-फरोख्त की बात चल रही है। एक न्यूज चैनल के पत्रकार ने यह स्टिंग किया था। अब देखना होगा कि हरीश रावत सीबीआई से रूबरू होकर किस तरह सच का सामना करते हैं। राज्य की राजनीति में भूचाल लाने वाले इस स्टिंग ऑपरेशन की सीडी बागी विधायकों ने 26 मार्च को दिल्ली में जारी की थी। सीडी के जारी होने के बाद हरीश रावत ने इसे नकार दिया था और स्टिंगकर्ता की कार्यप्रणाली व संपत्ति को लेकर कई सवाल उठाए थे। बाद में हरीश रावत ने यह कहते हुए स्टिंगकर्ता से मिलने की बात स्वीकारी थी कि वे पत्रकारों से मिलते-जुलते रहते हैं, इसमें गलत क्या है।

Next Story
Share it