Top
Pradesh Jagran

योगी राज में प्रशासन हुआ बेकाबू, शिकायत पर छात्रा को सिटी मजिस्ट्रेट ने गाली

योगी राज में प्रशासन हुआ बेकाबू, शिकायत पर छात्रा को सिटी मजिस्ट्रेट ने गाली
X

580435-yogi-adityanath-cm-newsलखनऊ। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक तरफ महिलाओं को सुरक्षा के देने के लिए भरसक प्रयास कर रहे हैं तो वहीँ योगी राज में सिटी मजिस्ट्रेट ने ही एक छात्रा पर मां-बहेन की गालियों की बौछार कर दी। छात्रा का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने अवैध रूप से किए जा रहे निर्माण की जानकारी सिटी मजिस्ट्रेट को दी थी, अवैध निर्माण की जानकारी पाने के बाद भी सिटी मजिस्ट्रेट ने वहां पुलिस नहीं भेजी और छात्रा के दुबारा फोन करने पर गाली देकर बात की। इसको लेकर छात्रा ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से ईमेल कर शिकायत की है।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी अपने हर अधिकारियों को जनता से भद्र तरीके से बात करने की सलाह दे रह हैं, लेकिन इस ‘नवाब’ पर तो उनकी बातों का ज़रा भी असर नहीं दिखाई पड़ रहा। दरअसल, 12 अप्रैल को सुनगढ़ी की एक छात्रा ने देर शाम करीब आठ बजे सिटी मजिस्ट्रेट रजित राम प्रजापति को फोन किया। छात्रा ने बताया कि उसके पड़ोस में अवैध तरीके से निर्माण किया जा रहा है। छात्रा ने पहले दिन में भी फोन किया था।

लेकिन जब पुलिस नहीं पहुंची तो छात्रा ने फिर फोन किया। छात्रा ने बताया कि वहां पुलिस नहीं पहुंची। इसके बाद कुछ देर तो प्रजापति शांत रहे उसके बाद छात्रा को एक गाली देते हुए फोन काट दिया। छात्रा के फोन में कॉल रिकार्डिंग हो रही थी। इसलिए कॉल रिकार्ड हो गई। कुछ ही देर में यह रिकार्डिंग वायरल होने लगी। छात्रा ने अब इसकी शिकायत मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से की है।

उधर सिटी मजिस्ट्रेट ने सफाई देते हुए बताया कि उन्होंने सुनगढ़ी पुलिस को मौके पर भेजा था, लेकिन पुलिस दूसरी जगह जाकर काम रुकवा आई। जबकि अभद्र भाषा का प्रयोग करने पर वे चुप्पी साध गए।

छात्रा का कहना है कि वहां पुलिस पहुंची ही नहीं। जिस दिन उसने फोन किया था रात भर लेंटर डालने का काम चलता रहा। इसके बाद अब काम रुक गया है। उसका कहना है कि लेंटर डलने के बाद कुछ दिन के लिए काम रोकना ही पड़ता है, इसलिए काम रुका है न कि किसी अधिकारी के कहने पर। उसे आशंका है कि यह काम फिर शुरू हो जाएग। छात्रा ने ईमेल से मुख्यमंत्री से शिकायत की है।

Next Story
Share it