Top
Pradesh Jagran

मौसम ने बदला रंग, अचानक बादल फटने से मची भारी तबाही

मौसम ने बदला रंग, अचानक बादल फटने से मची भारी तबाही
X

almodaचौखुटिया। अल्मोड़ा जिले की चौखुटिया तहसील में दो गांव बिजरानी और टटलगांव में अचानक बादल फट जाने से एक आवासीय भवन और एक ढाबे के साथ आठ मवेशी बह गए। इतना ही नहीं बिजरानी स्थित कई घरों में मलबा घुस गया साथ ही गांव को जोडऩे वाला पैदल मार्ग बह गया। उधर अल्मोड़ा के गरुड़ में उफनाए नाले को पार करते समय एक व्यक्ति के बह जाने की सूचना मिली है।

बादल फट जाने से भारी तबाही मच गई साथ ही कई घरों में मलबा घुसा

मौसम विभाग ने उत्तराखंड में 28 मई से भर्री वर्षा होने की संभावना जताई गयी थी। इसके बावजूद अभी से मौसम ने अपना रंग बदल लिया है। कैलास मानसरोवर सहित कई उच्च हिमालयी क्षेत्रों में हिमपात हुआ है। चमोली में हल्की फुहारें पड़ीं जबकि पौड़ी में कुछ जगहों पर तेज बारिश भी हुई है।

बिजरानी व टटलगांव में दोपहर के बाद अचानक मौसम में बदलाव हुआ और इसी के साथ घिरी काली घटाओं के बीच बीच बादल फटा। महज 10 मिनट में ही इससे तबाही मच गई। उफान पर आए बरसाती नाले का तेज बहाव ने बिजरानी निवासी मोहन सिंह के घर को अपनी गिरफ्त में ले लिया। घर में रह रहे पांच लोगों को किसी तरह बाहर निकाल लिया गया। तभी मकान बह गया और इसके साथ ही वहां बंधे तीन मवेशी भी बह गए।

टटलगांव के रिवाड़ी तोक नाले के उफान से कई घरों में मलबा घुसा, जबकि एक घर की चाहरदीवारी ढह गई। पिथौरागढ़ जिले के विभिन्न क्षेत्रों में घटाएं घिरीं और तेज हवा के साथ ही झमाझम बारिश हुई। अल्मोड़ा, बागेश्वर जिलों में कुछ स्थानों पर जोरदार बारिश हुई, जबकि कुछ जगह बूंदाबांदी।

मौसम विभाग के मुताबिक अभी सूबे में आंशिक रूप से लेकर आमतौर पर बादल रहेंगे और कुछ स्थानों में हल्की से मध्यम वर्षा अथवा गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

Next Story
Share it