Top
Pradesh Jagran

मंदिरों के कपाट बंद होने की तिथि घोषित

मंदिरों के कपाट बंद होने की तिथि घोषित
X

देहरादून : शीतकाल शुरू होने से पहले केदारनाथ और बद्रीनाथ भगवान के मंदिरों के कपाट बंद करने की तिथियां घोषित कर दी गई. तदानुसार केदारनाथ धाम के पट 21 अक्टूबर और द्वितीय केदार मद्महेश्वर भगवान के कपाट 22 नवंबर और बदरीनाथ धाम के कपाट 19 नवंबर को बंद हो जाएंगे.

मिली जानकारी के अनुसार भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम के कपाट 21 अक्टूबर को परंपरानुसार भाई दूज पर प्रात: 8 बजे बंद कर दिए जाएंगे. इसी दिन बाबा केदार की पंचमुखी भोग मूर्ति चल उत्सव डोली में विराजमान होकर 22 अक्टूबर को विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी और 23 अक्टूबर को शीतकालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर पहुंचेगी, जबकि आचार्य विश्वमोहन जमलोकी ने वेद-पंचाण गणना के आधार पर द्वितीय केदार मद्महेश्वर भगवान के कपाट शीतकाल के लिए बंद करने की तिथि 22 नवंबर निश्चित की.

इसी तरह आचार्य माहेश्वर प्रसाद मैठाणी और भारत भूषण मैठाणी ने पंचाण गणना कर तृतीय केदार भगवान तुंगनाथ के कपाट बंद होने की तिथि 27 अक्टूबर घोषित की. वहीं बदरीनाथ धाम के कपाट 19 नवंबर को शाम 7 बजकर 28 मिनट पर शीतकाल के लिए बंद हो जाएंगे. बता दें कि शनिवार को बदरीनाथ के परिक्रमा मंडप में धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल, वेदपाठी राधाकृष्ण थपलियाल और सत्य प्रसाद चमोला ने पंचांग देखकर धाम के कपाट बंद होने की यह तिथि निश्चित की.

Next Story
Share it