Top
Pradesh Jagran

भारी पड़ा मुन्ना भाई का इलाज, महिला की मौत

भारी पड़ा मुन्ना भाई का इलाज, महिला की मौत
X

| जहरीली दवा खाने से बिगड़ी थी हालत |

देव श्रीवास्तव

लखीमपुर-खीरी।

व्यवस्थाओं के अभाव में एक तो स्वास्थ्य महकमे की सेवाएं वैसे भी बीमार है। ऊपर से झोलाछाप डाक्टरों की बीमारी हाल अलग से बेहाल कर रही हैं।

01

थाना फूलबेहड़ क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम इब्राहिमपुर की निवासी फूलमती (50) पत्नी प्रेम सिंह ने अज्ञात कारणों के चलते खेत में डालने वाली जहरीली दवा खा ली। जिससे उसको उल्टियां होने लगीं। यह देख परिवार वाले घबरा गए और उसे आनन-फानन में फूलबेहड़ कस्बे में लेकर आए। यहां उन्होंने फूलमती को मुन्ना नामके झोलाछाप डाक्टर के यहां भर्ती कराया। डा. मुन्ना ने भी परिवार वालों को उसके जल्द ठीक हो जाने का दिलासा देते हुए भर्ती कर लिया। झोला छाप डाक्टर दिनभर महिला का उपचार करता रहा लेकिन ठीक होने की बजाए महिला की हालत और ज्यादा गंभीर होती चली गई

डॉ ने खड़े किये हाथ,मरीज की मौत

जब तीमारदारों का सब्र टूटने लगा तो डा. मुन्ना ने हाथ खड़े कर दिए। बूते के बाहर की बात बताकर उसने महिला को जिला चिकित्सालय ले जाने की हिदायत दे दी। इस पर परिवार वाले उसे जिला अस्पताल लेकर आए। यहां कुछ देर चले उपचार के बाद महिला ने दम तोड़ दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के वास्ते भेज दिया। महिला के चार बच्चे हैं। जिसमें तीन बेटे और एक बेटी है। बड़ा बेटा 30 साल, मंझला 28 साल और छोटा 18 साल का है। वहीं बेटी की उम्र 16 साल की है। मां की मौत के बाद परिवार में मातम का माहौल है।

50 तहरीर आती हैं किस-किस को याद रखूंःएसओ

इस बारे में जब एसओ फूलबेहड़ से बात की गई तो अव्वल उन्होंने मामले की जानकारी से ही इंकार किया। तहरीर की बावत पूछे जाने पर कहा कि रोजाना उनके पास पचासों तहरीर आती हैं। सबको याद रख पाना मुमकिन नहीं। यदि जानकारी चाहिए तो मुंशी के पास पता कर लीजिए। इसके बाद उन्होंने फोन काट दिया।

Next Story
Share it