Top
Pradesh Jagran

भारत में 7 करोड़ महिलाएं भूख न लगे इसलिए चबाती हैं तंबाकू

भारत में 7 करोड़ महिलाएं भूख न लगे इसलिए चबाती हैं तंबाकू
X

नई दिल्ली ( 12 नवंबर ) :भारत में महिलाओं की इस आदत को आप जानकर हैरान हो जाएंगे कि महिलाएं भूख न लगे इसलिए तंबाकू खाती हैं। 15 साल और उससे अधिक उम्र की करीब सात करोड़ महिलाएं तंबाकू चबाती हैं और उसकी एक अहम वजह मेहनत वाले काम के दौरान भूख को दबाने की इच्छा है।tobbaco

एक रिपोर्ट में कहा गया है, फिलहाल 15 साल और उससे अधिक उम्र की सात करोड़ महिलाएं तंबाकू का सेवन करतीस हैं। आसानी से उपलब्धता एवं सस्ते दाम महिलाओं द्वारा उसके सेवन के प्रोत्साहन के अहम कारक हैं। वंचित महिलाओं में तंबाकू के सेवन का एक अहम कारक कठिन या मेहनत वाले काम के दौरान भूख को दबाने की इच्छा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने डब्ल्यूएचओ, पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन आॅफ इंडिया, हीलिस सेक्षारिया इंस्टीट्यूट आॅफ पब्लिक हेल्थ, सेंटर फोर डिजीज कंट्रोल एवं प्रीवेन्शन और अमेरिका के नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के साथ मिलकर देश में तंबाकू चबाने के प्रभाव पर देश की पहली समग्र रिपोर्ट जारी की।

मुंह और गले के कैंसर को भारत में एक अहम स्वास्थ्य समस्या करार देते हुए रिपोर्ट कहती है कि हर साल पुरूषों में करीब 85,000 नये मामले और महिलाओं में 34,000 नये मामले सामने आते हैं जिनमें 90 फीसदी मामलों में किसी न किसी रूप में तंबाकू का इस्तेमाल है तथा आधे से अधिक मामले की वजह तंबाकू चबाना है।

भारत में वर्ष 2009-10 में पंद्रह साल या उससे अधिक उम्र की महिलाओं के बीच कराए गए ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वेक्षण का हवाला देते हुए रिपोर्ट का कहना है कि तंबाकू चबाना तंबाकू इस्तेमाल का सबसे प्रचलित तरीका है तथा करीब 26 फीसदी लोग तंबाकू चबाते हैं। उनमें 33 फीसदी पुरूष और 18 फीसदी महिलाएं हैं।

Next Story
Share it